गजरौला : मंडी धनौरा मार्ग स्थित मुहल्ला फाजलपुर में मारपीट के आरोपी दुकानदार को उठाने पहुंची पुलिस का विरोध झेलना पड़ा। इस दौरान पुलिस को देखकर भागे एक युवक को पकड़ने के बाद पुलिस ने गाड़ी में बैठाना चाहा तो महिलाओं ने पुलिस के साथ खींचतान कर दी। इससे काफी देर तक हंगामे की स्थिति बनी रही।

जोया निवासी नईम की यहां पर ई-रिक्शा स्पेयर पार्टस की दुकान है। फाजलपुर निवासी भीष्म ने उसकी दुकान से ई-रिक्शा के लिए एक बैटरी खरीदी थी लेकिन वह बैटरी खराब निकली। रविवार की दोपहर वह बैटरी को बदलने के लिए दुकान पर पहुंचा तो दुकानदार ने बैटरी बदलने से इंकार कर दिया। इस बात को लेकर दोनों के बीच मारपीट हो गई। मारपीट में चालक के गाल पर चाभी लगने से खून निकल आया। चालक लहुलूहान हालत में थाने पहुंचा और पुलिस को अवगत कराया।

इसके बाद थाने की गाड़ी दुकान पर पहुंची तो दुकानदार फरार हो गया। इस दौरान पड़ोस में रहने वाला टीकू नामक युवक भी पुलिस को देखकर भागने लगा। उसे पुलिस ने पकड़ लिया और जबरन गाड़ी में डालने लगी। शोरशराबा होने पर युवक के परिजन व महिलाएं भी मौके पर आ गईं और पुलिस की गाड़ी में बैठे युवक को गाड़ी से खींचने लगे। पुलिस कर्मियों से भी खींचतान हो गई। ऐसे में काफी देर तक हंगामे की स्थिति बनी रही। थानाध्यक्ष हरपाल ¨सह बालियान ने बताया कि पुलिस का कोई विरोध नहीं किया है। इस मामले में दोनों पक्षों ने समझौता कर लिया है।

By Jagran