उझारी : हसनपुर में काम करके बाइक से घर लौट रहे राजमिस्त्री की विपरीत दिशा से आ रही डीसीएम की चपेट में आकर मौत हो गई। डीसीएम से लोग शव लेकर अंत्येष्टी को जा रहे थे। चालक कालाखेड़ा में डीसीएम छोड़कर फरार हो गया है। घटना से आक्रोशित लोगों ने सड़क पर जाम लगा दिया। सैदनगली पुलिस एवं विधायक महेंद्र सिंह खडगवंशी देररात मौके पर पहुंच गए और जाम खुलवाया।

थाना सैदनगली के गांव पहाड़पुर वक्काल निवासी प्रेमदेव (25 वर्ष) राजमिस्त्री का काम करते थे। सोमवार को हसनपुर में काम कर वह बाइक से गांव लौट रहे थे। हसनपुर- सम्भल मार्ग पर जब वह भीकनपुर शर्की गांव में शिव मंदिर के सामने पहुंचे तो विपरीत दिशा से अंत्येष्टी के लिए शव लेकर गजरौला की ओर जा रही डीसीएम की चपेट में आकर उनकी मौत हो गई। हादसे के बाद एक किमी दूर कालाखेड़ा गांव में डीसीएम छोड़कर चालक फरार हो गया। चूंकि राज मिस्त्री का गांव घटनास्थल के नजदीक है। इसलिए सूचना मिलते ही बड़ी तादाद में ग्रामीण वहां पहुंच गए।

उन्होंने चालक की गिरफ्तारी की मांग को लेकर जाम लगाकर हंगामा किया। हंगामे की सूचना पाकर रात साढ़े नौ बजे विधायक महेंद्र सिंह खड़गवंशी मौके पर पहुंच गए। पुलिस कार्रवाई का आश्वासन देकर जाम खुलवाया। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा है। सैदनगली के प्रभारी निरीक्षक अमित कुमार मान ने बताया कि डीसीएम चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Jagran