गजरौला : क्षेत्र के गांव रहदरा व पाल में नवनिर्वाचित प्रधान समेत कई लोगों की बुखार व कोरोना से मौत होने के बाद स्वास्थ्य विभाग की नींद टूट गई। टीम ने दोनों गांवों में शिविर लगाकर ग्रामीणों की जांच करते हुए दवा का वितरण किया।

बता दें कि एक दिन पूर्व बुखार से पीड़ित रहदरा गांव के नवनिर्वाचित प्रधान कैलाश की मौत हो गई थी। वह कई दिन से चिकित्सा विभाग से सम्पर्क कर गांव में हेल्थ कैंप व कोरोना की जांच के लिए प्रयासरत थे, मगर स्वास्थ्य विभाग ने उनकी मांग पूरी नहीं की। ऐसे ही गांव पाल में कई लोगों की मौत होने के बाद भी जांच शिविर नहीं लगा। मीडिया में मामला उछलने के बाद गुरुवार को टीम ने दोनों गांवों में ढाई सौ लोगों की कोरोना जांच के लिए नमूने भी लिए। एंटीजन से सभी की रिपोर्ट निगेटिव आई। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. योगेंद्र सिंह ने बताया कि ग्रामीणों की आरटीपीसीआर की जांच भी कराई जाएगी। चिकित्सक ने मास्क के प्रति किया जागरूक, वीडियो वायरल

जासं, गजरौला : नगर के मुहल्ला कवि नगर स्थित बाल रोग विशेषज्ञ डॉ. जीके त्यागी ने अपना एक वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल किया है। जिसमें उन्होंने लोगों को मास्क के बारे में जागरूक करते हुए एन-95 मास्क को ही कोरोना रोकने में कारगर बताया है। वीडियो में उन्होंने पहले एन-95 मास्क लगाकर जली हुई मोमबत्ती बुझाने का प्रयास किया। लेकिन, मोमबत्ती की लौ कोई असर नहीं पड़ा। फिर उन्होंने थ्री लेयर व कपड़े के बने मास्क लगाकर मोमबत्ती बुझाने का प्रयास किया तो लौ तेजी के साथ डगमगाने लगी। इस प्रयोग से उन्होंने यह संदेश दिया है कि कोरोना रोकने के लिए सिर्फ एन-95 मास्क ही कारगर है। लैब संचालक पर रिपोर्ट

गजरौला : सीएमओ डॉ. सौभाग्य प्रकाश की तहरीर पर थाना पुलिस ने एक लैब संचालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। सीएमओ ने बताया कि छापेमारी के दौरान रेलवे ओवरब्रिज के निकट अपोलो डायग्नोस्टिक सेंटर बिना रजिस्ट्रेशन के संचालित मिली। वहां पर कोई कागजात नहीं था। इसकी तहरीर थाने में दी गई। पुलिस ने सीएमओ की तहरीर के आधार पर के लैब संचालक वसीम निवासी मोहरकापट्टी के खिलाफ में रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप