गजरौला : शनिसेना द्वारा मनाए जा रहे गणेश महोत्सव का बुधवार को समापन हो गया। इस मौके पर भक्तों ने नगर में ढोल नगाड़े एवं डीजे पर भगवान गणेश की मूर्ति की विसर्जन शोभायात्रा निकाली। शोभायात्रा में भक्त गुलाल अबीर उड़ाते हुए नृत्य कर रहे थे। उसके बाद गंगातट पर प्रतिमा का विधि विधान एवं मंत्रोच्चार संग विसर्जन किया।

नगर में राजकीय कन्या इंटर कालेज के सामने शनिसेना द्वारा मनाया जा रहा गणेश महोत्सव बुधवार को संपन्न हो गया। सात दिवसीय गणेश महोत्सव के समापन पर भक्तों ने विशेष पूजा अर्चना कर गणपति महाराज को विदाई दी। विदा हुए गणपति महाराज की मूर्ति की नगर में विसर्जन शोभायात्रा निकाली। शोभायात्रा में ढोल नगाड़े पर महिला-पुरुष लाल, पीला, हरा, गुलाबी आदि रंग के गुलाल उड़ाते व नृत्य करते हुए चल रहे थे।

शोभायात्रा महोत्सव स्थल से शुरू होकर रेलवे मार्ग शिव मंदिर, शिव इंटर कालेज, खादगूजर चौराहा, रमाबाई कालेज, ब्लाक, इंदिरा चौक गंगाधाम को रवाना हो गई। जहां भक्तों ने विधि विधान एवं मंत्रोच्चार संग गणेश प्रतिमा का विसर्जन किया। विसर्जन शोभायात्रा के दौरान गणपति बप्पा मोरया, अगले बरस तू जल्दी आना के जयकारों से वातावरण गुंजायमान रहा।

शोभायात्रा में महंत पंडित महेंद्र स्वामी, नितिन, सुरेंद्र स्वामी, नवीन कक्कड़, अमरजीत कोहली, नवीन गर्ग, सोहन शर्मा, डॉ राजीव शुक्ला, राजू यादव, अमित, गुरमित, केहर सैनी, शुभम, तेजपाल, अनाथ फकीर, गजेंद्र चौहान, कपिल गोयल, रूचि सक्सेना, दीपिका, अंजू, मोनिका, सीमा, प्रतिभा, राखी, रीना, सीमा आदि भक्तगण मौजूद रहे।

उधर, हाईवे पर अमरोहा, मुरादाबाद की विसर्जन शोभायात्रा ढोल नगाड़ों एवं डीजे पर गूंजते भक्तिगीतों संग निकलीं।

Posted By: Jagran