गजरौला: औद्योगिक क्षेत्र में धमाका होते ही नाईपुरा बिजलीघर ठप हो गया। इससे छोटी-बड़ी करीब 35-40 फैक्ट्रियों में बिजली संकट गहरा गया। शाम छह बजे से रात नौ बजे तक फाल्ट दुरुस्त नहीं होने से फैक्ट्रियों की विद्युतापूर्ति ठप पड़ी थी।

सोमवार की शाम तेज हवा के दौरान नाईपुरा बिजलीघर में इंसिल्को फैक्ट्री के फीडर की सीटी एवं जंफर धमाके के साथ फुंक गए। उस दौरान कर्मियों ने फाल्ट को हल्के में लिया चूंकि तब बिजलीघर के बाहर भड़क रही आग पर सभी का ध्यान केंद्रित था। आग बुझने एवं तेज हवा बंद होने के बाद बिजलीघर को चालू करने का प्रयास किया गया तो वह चालू नहीं हुआ। अवर अभियंता साहब सिंह ने बिजलीघर की मशीनों की जांच पड़ताल की तो पता लगा कि इंसिल्को फैक्ट्री के फीडर में फाल्ट के कारण बिजलीघर में लगी सीटी मशीन, जंफर फुंक गए। इसके साथ अन्य फैक्ट्रियों को निकलने वाले फीडरों की आपूर्ति भी गुल हो गई।

रात नौ बजे तक बिजलीघर को दुरुस्त करने के लिए मरम्मत कार्य जारी था। वहीं बिजली संकट गहराने से फैक्ट्रियों को काफी तगड़ी चपत लगनी बताई जा रही है। चूंकि कई फैक्ट्रियों के प्लांट बंद पड़े थे, तो कुछ बड़ी कंपनियां प्लांटों को चालू रखने के लिए वैकल्पिक इंतजामात करने पड़े।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस