गजरौला : श्रावण पूर्णिमा के पावन अवसर पर ब्रजघाट गंगा में लाखों श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई। स्नान के लिए ब्रजघाट गंगाघाट पर रविवार सुबह चार बजे से गंगाघाट श्रद्धालुओं की भीड़ खचाखच भर गए। वहीं गंगा पुल पर जाम की स्थिति बनी रही।

रविवार को श्रावण पूर्णिमा पर गंगा में स्नान के लिए शनिवार की मध्यरात्रि से ही श्रद्धालुओं का ब्रजघाट पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। भोर के चार बजे तक ब्रजघाट में गंगा घाट खचाखच भर गए। श्रावण माह का अंतिम दिन एवं पूर्णिमा पर स्नान करने वालों श्रद्धालुओं की काफी संख्या ब्रजघाट में दिखाई दी। श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई और सूर्य को अ‌र्घ्य देकर पुण्य कमाया। गंगा में स्नान के बाद गरीबों को अन्न, वस्त्र और धन दान कर पुण्य लाभ कमाया।

ब्रजघाट पर श्रद्धालुओं की सुरक्षा के लिए प्रशासन के पुख्ता इंतजाम रहे। महिलाओं की सुरक्षा के लिए सादा कपड़ों में पुलिस कर्मी तैनात रहे। पहाड़ी इलाकों में लगातार हो रही बरसात से गंगा का जल स्तर बढ़ा होने पर पानी की गहराई अधिक के स्थान पर खतरे का निशान लगाते हुए बेरीके¨डग की गई। उससे आगे श्रद्धालुओं को स्नान के लिए नहीं जाने दिया।

स्नान के दौरान ब्रजघाट पुल पर थोड़ी-थोड़ी देर के लिए जाम की स्थिति बनी रही। इससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। उधर, तिगरी गंगा तीर्थ पर भी श्रद्धालुओं ने स्नान किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप