जागरण संवाददाता, अमरोहा: प्रयागराज से संचालित आनलाइन सट्टा गैंग का पर्दाफाश करने में हसनपुर पुलिस की कार्रवाई तेज हो गई है। गिरफ्तार आरोपित राम सिंह के मोबाइल की कॉल डिटेल सारे गैंग के पत्ते खोलेगी। जिले में राम सिंह के संपर्क में कौन-कौन लोग हैं तथा कहां-कहां से आनलाइन सट्टा खेला जा रहा है, इसका जल्दी ही पर्दाफाश होगा। हसनपुर पुलिस पांच बैंक खातों की जांच कर ही है। जिनमें बड़ी रकम का लेनदेन हुआ है।

काबिलेगौर है कि तीन दिन पहले हसनपुर पुलिस ने रामसिंह उर्फ अंकित उर्फ रेहान नाम के युवक को गिरफ्तार किया था। प्रयागराज के रहने वाले इस युवक पर किसान नेता से 37 लाख रुपये की ठगी करने का आरोप था। परंतु पूछताछ में उसने पुलिस को जो जानकारी दी उससे पुलिस हैरत में पड़ गई। राम सिंह प्रयागराज से संचालित आनलाइन सट्टा गैंग का सदस्य निकला। बीते डेढ़ साल से वह हसनपुर में रहकर आनलाइन सट्टा कारोबार संचालित कर रहा था। वहीं इस गैंग पर एसआइटी भी नजर रखे हुए है। लखनऊ की एसआइटी टीम भी इस सारे मामले की जांच कर रही है। अब हसनपुर पुलिस भी इस गैंग का भंडाफोड़ करने में लग गई है। अभी तक पुलिस के सामने पांच ऐसे बैंक खाते आएं हैं जिनमें राम सिंह द्वारा बड़ी रकम का लेनदेन किया जाता रहा है। इन खातों की डिटेल जुटाई जा रही है। साथ ही राम सिंह के मोबाइल की कॉल डिटेल भी पुलिस जुटा रही है। ताकि हसनपुर व सारे जिले में इस गैंग से जुड़े लोगों की तलाश की जा सके। माना जा रहा है कि हसनपुर के साथ अमरोहा व गजरौला में भी आनलाइन सट्टा कारोबार गैंग से जु़ड़े लोगों के नाम सामने आ सकते हैं। प्रभारी निरीक्षक नीरज कुमार ने बताया कि राम सिंह के मोबाइल की कॉल डिटेल जुटाई जा रही है। उसके बाद कई लोगों के नाम सामने आ सकते हैं। साथ ही उन्होंने पांच बैंक खातों की जांच शुरू करने की पुष्टि भी की है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021