अमरोहा : चकबंदी के दौरान मिली जमीन में धान लगाने से रोकने पर दबंगों ने अधिवक्ता के भाई पर फावड़े से हमला कर दिया। इसके बाद दोनों पक्षों में लाठी-डंडे चले। मारपीट में चार लोग घायल हो गए। सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने दोनों पक्ष के छह लोगों को हिरासत में लिया है। दूसरे पक्ष के भी दो लोगों का मेडिकल कराया है।

यह मामला डिडौली कोतवाली क्षेत्र के गांव श्यामपुर का है। यहां किसान शफीक अहमद का परिवार रहता है। दो साल पहले गांव में चकबंदी हुई थी। चकबंदी में तीन बीघा जमीन शफीक अहमद के परिजनों के नाम आ गई परंतु तभी से गैर समुदाय के लोगों ने उनकी इस जमीन पर कब्जा कर रखा है। कई बार दोनों पक्षों में बात हुई, तो वह फसल काटने के बाद जमीन छोड़ने की बात कहकर टाल देते थे।

बुधवार को फिर आरोपितों ने खेत में धान की रोपाई का कार्य शुरू कर दिया। सूचना मिलते ही अधिवक्ता के भाई अब्बास अली खेत पर पहुंच गए। अपने हिस्से की जमीन छोड़कर धान की रोपाई करने की बात कही। इसी बात पर दबंगों ने हमला कर दिया। गाली-गलौज की और फावड़े से हमला कर लहूलुहान कर दिया। बाद में दोनों पक्षों के लोग भी आमने सामने आ गए। जमकर लाठी-डंडों चले।

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई। घायल अब्बास अली को अस्पताल में भर्ती कराया। पीड़ित अधिवक्ता ने तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने दोनों पक्ष के छह लोगों को हिरासत में लिया है। दूसरे पक्ष ने भी मारपीट का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस