अमेठी : स्कूल, कॉलेज व भीड़भाड़ वाली जगहों पर अब पुलिस की पैनी नजर रहेगी। इसके लिए जिले के सभी थानों में अलग से पुलिस अधीक्षक ने एंटी रोमियो की एक नई टीम का गठन किया है। टीम सीधे उन लड़कों पर नजर रखेगी जो स्कूल, कॉलेज जाते समय लड़कियों को छेड़ते हैं और छींटाकशी कर उन्हें परेशान करते हैं। ऐसे लड़कों के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करेगी। संदिग्ध लड़कों व व्यक्तियों को पहले चेतावनी पत्र जारी होगा, इसके बाद भी सुधार न होने पर उनके मां-बाप व अभिभावक को थाना मुख्यालय बुलाकर उनकी काउंसिलिंग की जाएगी, जिससे समाज में महिलाओं पर हो रहे आपराधिक वारदातों पर अंकुश लगेगा और परिवार के लोग भी अपने लड़कों पर नजर रखेंगे। महिलाओं पर छींटाकशी करने पर सीधे केस दर्ज होगा और कार्रवाई होगी।

एंटी रोमियो स्क्वाड का हुआ पुनर्गठन : पुलिस अधीक्षक ने जिले में एंटी रोमियो स्क्वाड का पुनर्गठन किया है। जिले के सभी थानों में एक-एक टीम बनाई गई है। टीम में एक सब इंस्पेक्टर, एक पुरुष आरक्षी व दो महिला आरक्षी को रक्षा गया है। जबकि इससे पहले टीम में दो पुलिस कर्मी ही हुआ करते थे।

सुबह, दोपहर व शाम मुस्तैद रहेंगी टीम : एंटी रोमियो स्क्वाड टीम सुबह आठ से दस, दोपहर एक से तीन व शाम को पांच से सात बजे के बीच पूरी तरह से मुस्तैद रहेंगी।

महिला थाना प्रभारी को मिली कमान : जिले के एक थानाक्षेत्र में दिन महिला थाना प्रभारी को अपनी टीम के साथ एंटी रोमियो टीम का नेतृत्व करने की जिम्मेदारी दी गई है।

कोट

लड़कियों व महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने वाले लोगों के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई के लिए टीम का पुनर्गठन किया गया है।

-अनुराग आर्य, पुलिस अधीक्षक, अमेठी

Posted By: Jagran