अमेठी, जेएनएन। बड़ी सफलता पाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अमेठी पहुंचने से पहले ही उनके संसदीय क्षेत्र में पोस्टर वॉर शुरू हो गया है। पोस्टर्स में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के फैसलों पर सवाल उठाए गए हैं।

राहुल गांधी के अमेठी पहुंचने से पहले पोस्टर वॉर शुरू हो गया है। यहां पर जगह-जगह लगे पोस्टर्स में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के फैसले पर सवाल उठाए गए हैं। पोस्टर में लिखा गया- सपा के आशीर्वाद से कांग्रेस पार्टी के मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के यूपी के लोगों को रोजगार से हटाने पर राहुल गांधी जवाब दें। पोस्टर में अखबारों की कटिंग भी लगी है। जिसमें बेरोजगारी के लिए यूपी व बिहार के लोगों को जिम्मेदार बताया गया है। बड़ी संख्या में पोस्टर्स अमेठी कस्बे के देवीपाटन मंदिर के साथ ही साथ सगरा तिराहे, गौरीगंज के कांग्रेस कार्यालय, एसपी ऑफिस मोड़ व कलेक्ट्रेट मोड़ के साथ पूरे जिले में लगाए गए हैं।  

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपने दो दिवसीय दौरे पर अमेठी पहुँच रहे हैं। साथ ही इसी दिन केंद्रीय वस्त्र मंत्री स्मृति ईरानी भी अपने एक दिवसीय दौरे पर अमेठी आ रही हैं। जिससे अमेठी में सियासी माहौल गरम है।तीन राज्यों में जीत के बाद पहली बार अमेठी आ रहे राहुल के स्वागत के लिए कांग्रेसियों ने पूरी ताकत लगा रखी है। पूरे शहर में होर्डिंग लगाई गई है।

गुरुवार की रात ही इन होर्डिंग्स पर अज्ञात लोगों द्वारा पोस्टर लगा दिये गये।पोस्टर पर लिखा है कि 'सपा के आशीर्वाद से कांग्रेस पार्टी के मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा उत्तर प्रदेश के लोगों को रोजगार से हटाने पर राहुल गांधी कांग्रेस अध्यक्ष जवाब दें'।इसके साथ ही कई अन्य आरोप भी मढे गये हैं।हालाँकि पोस्टर पर किसी का नाम नहीं लिखा है। सुबह पोस्टर की भनक लगते ही प्रशासन ने पोस्टर हटवा दिये। एक दिन पहले ही भाजपा जिला मंत्री ने पत्र लिखकर राहुल व गांधी नेहरू परिवार पर आरोप मढे थे।

Posted By: Dharmendra Pandey

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप