अमेठी : उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसीडा) के मुख्य कार्य पालक अधिकारी कानपुर मयूर महेश्वरी के निर्देशों के क्रम में आवासीय कालोनी कठौरा में एक बैठक आयोजित की गई। इसमें आवंटियों की समस्याओं को स्थानीय स्तर पर सुनकर जिम्मेंदारों ने जल्द निदान का भरोसा दिया है। यूपीसीडा के प्रबंधक सिविल राजकमल सिंह ने कठौरा आवासीय कालोनी में आवंटियों के साथ बैठक की। लोगों ने वाटर सप्लाई का प्रेशर कम होने की समस्या से अवगत कराया। बताया कि इस समस्या को एक सप्ताह के भीतर निस्तारण करने के निर्देश दिए हैं। प्रबंधक सिविल ने बताया कि आवंटियों ने कूड़ा प्रबंधन की समस्या बताई। इस समस्या को गंभीरता से लेकर एक माह के अंदर कूड़ा प्रबंधन की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए गए हैं। बताया कि नाली व सड़कों की समस्या एवं पार्क सौंदर्यी करण की मांग की गई। सड़को व नाली के काम का स्टीमेट तैयार कर अगले वित्तीय वर्ष में बजट पास होते ही काम कराया जाएगा। उन्होंने औद्योगिक एसोशिएन से अपील की कि अगर किसी एसोशिएन को पार्क डेवलपमेंट करना है तो रख-रखाव के लिए उन्हें पार्क आवंटित किया जा सकता है। इस मौके पर श्याम बहादुर सिंह, एनडी पांडेय, शिरोमणि यादव, रामचन्दर यादव सहित अन्य मौजूद रहे।

----------------

255 आवेदक मिले पात्र, 55 अपात्र

अमेठी : तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत चौरा में भूमिहीनों के कृषि आवंटन के लिए भूमि प्रबंधक समिति की एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में ग्राम पंचायत के तीन सौ दस भूमिहीनों ने भूमि आवंटन के लिए आवेदन किया। जिसमें दो सौ पचपन आवेदक पात्र, जबकि पचपन अपात्र पाए गए। यहां आयोजित कृषि आवंटन की बैठक में ग्राम पंचायत सदस्य, हल्का लेखपाल व ग्राम प्रधान के अलावा गांव के संभ्रांत नागरिक मौजूद रहे। ग्राम प्रधान सावित्री देवी ने बताया कि यहां आए पात्र आवेदकों को भूमि आवंटित कर उन्हें कृषि योग्य भूमि मुहैया कराई जाएगी। भूमि प्रबंध समिति की ओर से पारित प्रस्ताव को अनुमोदन के लिए तहसील भेज दिया गया है। अनुमोदन मिलते ही भूमिहीनों को भूमि का आवंटन कर दिया जाएगा।

Edited By: Jagran