अमेठी : स्वास्थ्य विभाग ने कोरोना टीकाकरण के लिए डे प्लान जारी किया था। इसके लिए ग्राम प्रधानों के जरिए प्रचार प्रसार कराया गया। टीकाकरण केंद्र पर पहुंचे ग्रामीणों को वैक्सीन न होने से बिना टीका लगवाए वापस जाना पड़ा।

स्वास्थ्य विभाग ने गुरुवार को दरपीपुर व टिकरिया के पंद्रह स्थानों पर कोरोना टीकाकरण के लिए डे प्लान जारी किया था। टीका लगवाने के लिए गांवों में ग्राम प्रधान के जरिए खूब प्रचार प्रसार कराया गया। जिसके चलते निर्धारित स्थान पर टीका लगवाने के लिए ग्रामीण एकत्र हुए। काफी देर इंतजार करने के बाद बताया गया कि वैक्सीन ही नहीं है। जिसके चलते आए ग्रामीणों को बिना टीका लगवाए वापस होना पड़ा। तमाम प्रयासों के बाद लोगों में टीके के प्रति आई जागरूकता विश्वास तोड़ रही है।

यहां के लिए जारी हुआ था डे प्लान

टिकरिया गांव के दो स्थान पर, जेठू मवई, बसायकपुर, खजुरी, लीला टीकरा, मेदन मवई, दरपीपुर, धनीजलालपुर में दो जगह, बेहटा दो स्थान, शहबाजपुर, सरांयबरबंड सिंह। प्रत्येक केंद्र पर एक एक सौ लोगों को टीका लगाने का लक्ष्य रखा गया था। बताया गया कि बचाव के लिए टीका लगवाना सबसे अनिवार्य है। इसलिए किसी को अफवाहों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है।

- बोले सीएमओ

टीकाकरण के लिए डे प्लान चारी किया गया था। बुधवार को चार हजार डोज बचा था। उसे गुरुवार को अन्य केंद्र पर लगाया जा रहा है। वैक्सीन न होने के कारण डे प्लान के निर्धारित स्थान पर टीकाकरण नहीं हो सका। पंद्रह हजार डोज आने की उम्मीद है। इसके बाद शुक्रवार को वहां टीकाकरण कराया जाएगा। डा. आशुतोष कुमार दुबे, सीएमओ अमेठी