अमेठी : शहर के रामलीला मैदान में कर्पूरी ठाकुर जयंती सप्ताह समारोह में आयोजित अति पिछड़ा जगाओ सम्मेलन में समाज के लोगों एकजुटता की बात कही।

समारोह का शुभारंभ राष्ट्रीय अध्यक्ष राजमणि शर्मा ने कर्पूरी ठाकुर और सम्राट महा पदमनंद की प्रतिमा पर माल्यार्पण और दीप प्रज्ज्वलन कर किया। उन्होंने कहा कि अति पिछड़ी जातियों का आरक्षण अलग किया जाय। संगठन 2008 से लगातार प्रदेश में आरक्षण की माग कर रहा है। जनवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ओम प्रकाश ठाकुर ने कहा कि कर्पूरी ठाकुर व्यक्तित्व गौरवशाली रहा है। देश के पिछड़ों गरीबो को ऊपर उठाने के लिये एक दिशा देने का कार्य किया था। कर्पूरी ठाकुर सन 1970 में बिहार के मुख्यमंत्री बने थे, उन्होंने पहली बार पिछड़ी जातियों और अति पिछड़ी जातियों के आरक्षण का फार्मूला था, जिसे केरल सहित सात राज्यों में लागू किया गया। मैट्रिक तक की शिक्षा मुफ्त करने का श्रेय उन्ही को जाता है। कार्यक्रम में रामजी मौर्य, सीताराम, डीके यादव, हनुमान सिंह यादव, जयसिंह यादव, श्रीनाथ यादव, भुवाल कश्यप, जगन्नाथ शर्मा, संतराम प्रजापति, धर्मपाल यादव, महावीर कश्यप सहित तमाम लोग मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस