अमेठी : इलाहाबाद बैंक के सुलतानपुर शहर की मुख्य शाखा से सोमवार सुबह बीस लाख का कैश लेकर अमेठी जिले की ज्ञानीपुर शाखा आ रहे कार सवार बैंक कर्मियों से बाइक सवार दो बदमाशों ने लूट का प्रयास किया। बदमाशों ने बाबूगंज बाजार में कार को ओवरटेक कर ताबड़तोड़ फाय¨रग की। इसमें बैंक के सहायक शाखा प्रबंधक व कार चालक गंभीर रूप से घायल हो गए। हालांकि, शाखा प्रबंधक की सूझबूझ से बदमाश कैश नहीं ले जा सके।

पुलिस के अनुसार भादर थानाक्षेत्र अंतर्गत इलाहाबाद बैंक के ज्ञानीपुर शाखा के शाखा प्रबंधक अंकित रावत, सहायक शाखा प्रबंधक राघवेंद्र माथुर और बैंक कैशियर अजय सिंह कार से बीस लाख कैश लेकर ब्रांच आ रहे थे। इसी बीच सुबह सवा 11 बजे के करीब इलाहाबाद-फैजाबाद हाईवे पर रामगंज बाजार के पास बाइक सवार दो बदमाशों ने कार पर फाय¨रग शुरू कर दी। कार चालक रामपाल ने सूझबूझ दिखाते हुए बाइक सवार बदमाशों को ओवरटेक नहीं करने दिया और कार की रफ्तार बढ़ा दी। फाय¨रग देख सहायक शाखा प्रबंधक राघवेंद्र माथुर डायल 100 पर पुलिस को सूचना दे ही रहे थे कि तीन किलोमीटर से फाय¨रग करते हुए पीछा कर रहे बदमाशों ने बाबूगंज बाजार में कार को ओवरटेक कर रोक लिया और ताबड़तोड़ फाय¨रग शुरू कर दी। इसमें तीन गोलियां कार चालक रामपाल को लगीं। वहीं फोन पर बात करते देख बदमाशों ने सहायक प्रबंधक राघवेंद्र माथुर के हाथ में गोली मारी। घटना में दोनों गंभीर रूप से घायल हो गए। कैश मांगने पर शाखा प्रबंधक ने थमा दिया कपड़ों का बैग

इसी बीच बैंक के शाखा प्रबंधक अंकित रावत ने अपने कपड़ों व कागजों से भरा बैग बदमाशों को थमा दिया। उसे कैश समझकर बदमाश भाग निकले। मौके पर पहुंची पुलिस घायलों को सुलतानपुर जिला अस्पताल ले गई। वहां चालक रामपाल की हालत गंभीर होने पर उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। एसपी ने बताया कि बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए टीमें लगाई गई हैं। घटनास्थल से सुबूत जुटाए जा रहे हैं। डिक्की में रखे थे इसलिए बच गए रुपये

बदमाशों को पहले से कार में कैश होने की बात पता थी, लेकिन उन्हें यह नहीं पता था कि कैश कार की डिक्की में रखा है। फाय¨रग देख शाखा प्रबंधक अंकित रावत ने साहस दिखाते हुए कैश के बजाय कार की सीट पर रखा अपना कपड़ों और कागजों से भरा बैग बदमाशों को पकड़ा दिया और वे उसे कैश समझकर ले भागे। डीआईजी ने भी किया मौके का मुआयना

फैजाबाद परिक्षेत्र के डीआईजी ओकार सिंह ने अमेठी जिले के पीपरपुर थाना क्षेत्र में स्थित घटनास्थल बाबूगंज पहुंचकर लोगों से बातचीत की। अमेठी पुलिस को घटना को चुनौती के रूप में लेते हुए अतिशीघ्र बदमाशों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए।

Posted By: Jagran