अंबेडकरनगर: कोरोना संक्रमण सिमटने के साथ टीकाकरण की गति भी कम हुई है। गुरुवार को अब तक सबसे कम लोगों को टीका लगा। अवकाश के दिन भी टीकाकरण होने की सूचना न मिल पाने से लोग केंद्रों तक नहीं पहुंच पा रहे हैं।

कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन लगवाने को पखवाड़े भर पहले केंद्रों पर भीड़ उमड़ती थी, लेकिन अब हालात बिलकुल उलट हैं। लक्ष्य और बूथों की संख्या सिमटने के साथ लोगों की मौजूदगी भी नाम मात्र दिखी। बुधवार को महज 11 केंद्रों पर 43 बूथ संचालित किए गए। कहीं भी भीड़ या कतार नजर नहीं आई। 2500 लक्ष्य के सापेक्ष सिर्फ 1373 लोगों को टीका लगाया गया, जो लक्ष्य का महज 54 फीसद रहा। सीएमओ डा. श्रीकांत शर्मा ने बताया कि रविवार को छोड़कर सभी दिन टीकाकरण किया जा रहा है। सार्वजनिक अवकाश के दिन भी टीकाकरण और कोरोना जांच लगातार चल रही है।

डबल डोज की संख्या रही सर्वाधिक : अभियान के तहत 18 से 44 वर्ष वालों में 321 को टीका लगाया गया। 45 से अधिक उम्र वालों में 182 के साथ 870 को दूसरी डोज दी गई। अभिभावक केंद्र और महिला स्पेशल केंद्र पर कोई भी टीका नहीं लग सका।

महज एक सक्रिय केस : गुरुवार को भी कोई संक्रमित नहीं मिला और न ही कोई मरीज स्वस्थ हुआ। जिले में अब महज एक सक्रिय मरीज है। इसका इलाज लखनऊ स्थित अस्पताल में चल रहा है। इसके साथ ही डेंगू का भी कोई मरीज चिन्हित नहीं किया गया।

चिकित्सकों ने लोगों को हरहाल में प्रोटोकाल के अनुपालन करने की सलाह दी है।

Edited By: Jagran