अंबेडकरनगर : स्वॉट टीम ने जलालपुर कोतवाली क्षेत्र से दो साइबर अपराधियों को पकड़ा है। इनके कब्जे से अलग-अलग बैंकों के नकली आठ एटीएम कार्ड और लैपटॉप, स्कैनर, स्वैप मशीन, डाटा केबिल व 52 हजार रुपये नकद बरामद हुए। पड़ोसी जनपद आजमगढ़ के दीदारगंज थाना क्षेत्र के करुई गांव निवासी धमेंद्र राजभर और सुरहन गांव निवासी विशाल राजभर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आरोपितों को जेल भेज दिया गया है।

स्वॉट टीम ने मुखबिर की सूचना पर जलालपुर कोतवाली क्षेत्र के हैदराबाद में स्थानीय पुलिस के साथ दबिश देकर दोनों आरोपितों को दबोचा था। इनके खिलाफ जलालपुर थाने में आइटी एक्ट व धोखाधड़ी आदि धाराओं में कई मुकदमे दर्ज हैं। कार्रवाई में थानाध्यक्ष मनीष कुमार सिंह, उपनिरीक्षक नीरज कुमार, जय किशन यादव, कृष्ण कुमार सिंह, सूर्यभान यादव, राजेश सिंह तथा स्वॉट टीम के अब्बू हमजा, प्रभात मौर्य सुनील कुमार शामिल थे।

---

एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर लगाते थे खाते में सेंध : पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने मीडिया को बताया कि आरोपितों के पास से पुलिस ने एसबीआइ, बीओबी, एचडीएफसी व एक्सिस बैंक समेत अन्य बैंकों के एटीएम कार्ड बरामद हुए हैं। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि कार्ड का क्लोन बनाने के लिए सूनसान इलाकों में स्थित एटीएम को अपना निशाना बनाते थे। मदद के बहाने उपभोक्ताओं का कार्ड स्वैपिग स्लॉट पर एक विशेष मैगनेटिक डिवाइस लगा कर बारकोड और चिप के जरिए पूरी जानकारी कॉपी कर लेते थे। इसके साथ ही डिवाइस में कार्ड का ब्लूप्रिट तैयार कर विशेष सॉफ्टवेयर की मदद से एटीएम कार्ड का क्लोन बनाकर रकम निकाल लेते थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस