अंबेडकरनगर : नवरात्र के आठवें दिन भक्तों ने शक्ति स्वरूपा मां भवानी के महागौरी स्वरूप की आराधना की। घरों पर विशेष अनुष्ठान कर भक्तों ने पूजन अर्चन कर मन्नतें मांगी। पंडालों में माता रानी के दर्शन के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ी। भक्तों ने कीलक, कवच एवं दुर्गा सप्तशती का पाठ भी किया। मंदिरों में भजन-कीर्तन आयोजित हुआ।

नगर स्थित काली माता मंदिर, पंडा टोला स्थित काली माता मंदिर, नगर पालिका स्थित दुर्गा मंदिर एवं जौहरडीह स्थित दुर्गा मंदिर में सुबह से ही दर्शनों के लिए श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। ग्रामीणांचल में सजे पंडालों में सुबह से रातभर भजन-कीर्तन जारी रहने से पूरा वातावरण भक्तिमय बना रहा।

बाजारों में उमड़ी भीड़ : नवमी एवं दशमी पर कन्यापूजन के लिए शहजादपुर बाजार में चुनरी खरीदने वालों की भारी भीड़ दिखी। साथ ही हवन-पूजन के लिए सामग्री की भी खरीदारी की।

मां की आराधना से मिलती है सुख-समृद्धि : आदिशक्ति महाकाली मंदिर हरीपुर (जमुनीपुर) के संरक्षक पंडित आत्माराम तिवारी ने बताया कि नवरात्र में मां भगवती की पूजा-अर्चना करने से श्रद्धालुओं को सुख-समृद्धि के साथ शत्रुओं पर विजय मिलती है।

बढ़ी रौनक, सोमवार को विसर्जन :

जहांगीरगंज कस्बे में मामपुर व नरियावं में कलश स्थापना कर अष्टमी, नवमी, दशमी पर तीन दिनों तक चलने वाले मेले की अनुमति इस बार नहीं दी गई है। थानाध्यक्ष नागेंद्र सरोज ने बताया कि कोरोना नियमों तथा गाइडलाइन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। चौक में स्थापित पूजा समिति के पदाधिकारियों विकास जायसवाल, रवि दूबे व दीपक आदि ने बताया कि देवी मूर्तियों का विसर्जन सोमवार को किया जाएगा।

भंडारे का आयोजन :

महरुआ में कटेहरी के गांव आदमपुर तिदौली में दुर्गा पूजा पंडाल में श्रद्धालुओं ने पूजा-अर्चना कर आशीर्वाद मांगा। भंडारे में लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया। कमेटी कार्यकर्ता अभिषेक रघुवंशी, सुनील निषाद, बृजेश सिंह, सौरभ, शरद सिंह, अंकित सिंह, लवकुश जयसवाल आदि मौजूद थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस