अंबेडकरनगर : चुनाव तैयारियों में जुटा निर्वाचन कार्यालय हर एक व्यवस्था को पुख्ता कर रहा है। चुनाव आचार संहिता का पालन कराने के साथ नोडल अफसरों को सक्रिय किया गया है। निगरानी में लगे अधिकारी अपने दायित्वों को तेजी से पूरा करने में लगे हैं। मतदान की सबसे अहम कड़ी ईवीएम एवं वीवीपैट का पहले विधानसभा वार तथा बाद में बूथवार रैंडमाजेशन किया जाना है। जिला निर्वाचन कार्यालय से पहले चरण में प्रतीकात्मक रैंडमाइजेशन किया गया, इसमें ईवीएम व वीवीपैट का विधानसभा वार माकपोल हुआ। इसके नोडल अधिकारी व जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के परियोजना निदेशक राकेश प्रसाद ने बताया कि परीक्षण में निर्धारित 2075 बूथों के सापेक्ष 120 फीसद कंट्रोल यूनिट व बैलेट यूनिट के अलावा 130 फीसद वीवीपैट का विधानसभा वार प्रतीकात्मक रैंडमाइजेशन किया गया। सब कुछ दुरुस्त मिला है। माकपोल रैंडमाइजेशन के दौरान उप जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार कनौजिया एवं चुनाव कार्यालय के वरिष्ठ सहायक शहंशाह आलम उपस्थित रहे। प्रतीकात्मक हुए रैंडमाइजेशन में दुरुस्त मिली प्रक्रिया। पांचों विधानसभा क्षेत्रों के 2075 बूथों पर होगा मतदान।

-----------

भरपूर ईवीएम व वीवीपैट उपलब्ध : जनपद के पांचों विधानसभा क्षेत्रों कटेहरी, टांडा, आलापुर, जलालपुर और अकबरपुर के 2075 बूथों पर मतदान होगा। इसके लिए कुल 2698 कंट्रोल यूनिट, 2698 बैलेट यूनिट और 2905 वीवीपैट की जरूरत है। इसके सापेक्ष निर्वाचन आयोग ने यहां जिला निर्वाचन कार्यालय को तीन हजार कंट्रोल यूनिट, 3765 बैलेट यूनिट व 3231 वीवीपैट मुहैया कराया था। पहले चरण की जांच में 2720 कंट्रोल यूनिट, 3620 बैलेट यूनिट और 2358 वीवीपैट दुरुस्त मिले। वहीं 236 कंट्रोल यूनिट, 98 बैलेट यूनिट और 197 वीवीपैट को खराब मिलने पर रिजेक्ट कर दिया गया है।

Edited By: Jagran