प्रयागराज, जेएनएन। ...अभी तीन दिन पहले ही उसकी शादी हुई थी। पैरों में लगा रंग भी धूमिल नहीं हुआ था। फिर ऐसा क्‍या हुआ, आखिर किसने उसकी हत्‍या कर दी। यह सवाल एक युवक के परिवार वालों के हैं। जब बुधवार की सुबह रेलवे लाइन के किनारे उसकी लाश मिली तो बिलखते परिवार के लोग वहां पहुंचे और उन्‍होंने हत्‍या का आरोप लगाया।

प्रयागराज जनपद में बुधवार की सुबह एक युवक का शव मिला। सरायइनायत थाना क्षेत्र के सुदनीपुर कला गांव के निकट रेलवे ट्रैक के बगल में शव पड़ा देख लोगों की भीड़ जुट गई। सूचना पर जीआरपी के साथ पुलिस भी पहुंची। युवक की शिनाख्‍त हो गई है। परिवार के लोगों ने हत्‍या का आरोप लगाया है। पुलिस जांच कर रही है।

फतुहां गांव के सुनील की शादी 13 जून को हुई थी

सरायइनायत थाना क्षेत्र के फतुहां निवासी 27 वर्षीय सुनील कुमार पुत्र हीरालाल की शादी तीन दिन पूर्व हुई थी। 13 जून को बक्सिद के बलक सरांय गांव निवासी गुलाब चंद गौतम की पुत्री गुंजा से सुनील का विवाह हुआ था। घर में हंसी-खुशी के माहौल में नई नवेली बहू आई। हालांकि यह खुशी अब इसी परिवार में गमों का पहाड़ ला दिया है। सुनील मजदूरी करता था। स्‍वजनों के मुताबिक मंगलवार कि रात करीब आठ बजे सुनील ने पिता से 200 रुपये मांगकर घर से हनुमानगंज बाजार के लिए निकला था। हालांकि देर रात तक भी वह घर वापस नहीं लौटा। इससे परिवार के लोग सशंकित हो गए और रात भर उसकी खोजबीन करते रहे।

प्रयागराज-वाराणसी रूट पर रामनाथपुर रेलवे स्‍टेशन के निकट मिला शव

बुधवार की सुबह प्रयागराज-वाराणसी रेलवे रूट पर रामनाथपुर रेलवे स्टेशन के निकट रेलवे ट्रैक के बगल में सुनील का शव मिला। शव देख कर वहां कुछ ही देर में भीड़ जुट गई। सरायइनायत थाने की पुलिस व जीआरपी भी पहुंची। इसी बीच जानकारी मिलने पर सुनील के परिवार के लोग भी वहां पहुंचे और शिनाख्‍त की।

सुनील के चेहरे पर चोट के निशान, पुलिस ट्रेन की चपेट में आने की कह रही बात

सुनील के चेहरे पर चोट के कई निशान थे। पुलिस का मानना है कि ट्रेन की चपेट में आने से उसकी मौत हुई है। फिलहाल पोस्‍टमार्टम रिपोर्ट का पुलिस को इंतजार है। पीएम रिपोर्ट आने पर ही मौत का कारण स्पष्ट होगा।

Edited By: Brijesh Srivastava