प्रयागराज, [अतुल यादव]। हंसते-हंसते कट जाए रस्ते जिंदगी यूं ही चलती रहे...। जी हां कोरोना के संकट काल में तनाव कम करने के लिए डॉक्टर मरीजों को गीत और चुटकुले सुना रहे हैं। साथ ही एनर्जेटिक गानों की धुन पर थिरक कर उनका मनोबल बढ़ाने की भी कोशिश कर रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें अस्पताल का स्टाफ डांस करते नजर आ रहा है। ये वीडियो ड्यूटी के दौरान तनाव कम करने के लिए लंच टाइम पर बनाया गया है, जो रेलवे के केंद्रीय चिकित्सालय का है। 

कोविड-19 की दूसरी लहर का असर

दरअसल, कोरोना वायरस की दूसरी लहर में एक बार फिर सब कुछ प्रभावित हुआ है। कोविड-19 संक्रमण की चपेट में आने से मरीज के अलावा पूरा परिवार तनावग्रस्त हो रहा है। लोगों में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण पर नियंत्रण व इलाज के लिए दिन-रात अपना फर्ज निभाने वाले डॉक्टर समेत स्वास्थ्यकर्मी भी इस संक्रमण से अछूते नहीं रह गए हैं। ऐसे में सभी सहमे हैं कि कहीं उन्हें भी कोविड न हो जाए।

ड्यूटी पर मेडिकल स्टाफ इलाज के साथ ही कम कर रहे तनाव

इस बीच ड्यूटी कर रहे स्टाफ इलाज के साथ ही तनाव कम करने के लिए तरह-तरह गतिविधियां कर रहे हैं। कभी वे आपस में चुटकुले सुनाकर उनका ध्यान बांटने का प्रयास करते हैं तो कभी गीत-संगीत का भी सहारा लेते हैं। हाल ही में वायरल एक वीडियो में नजर आ रहा कि कैसे बॉलीवुड की मूवी के एक गाने पर अस्पताल के स्टाफ डांस कर रहे हैं। यह वीडियो रेलवे के केंद्रीय चिकित्सालय में डॉक्टर व स्टाफ का है, जो गाने की धुन पर थिरकते नजर आ रहे हैं।

केंद्रीय चिकित्सालय के नोडल अधिकारी ने की वीडियो की पुष्टि

केंद्रीय चिकित्सालय के नोडल अधिकारी डॉक्टर एसके हांडू ने इस वीडियो की पुष्टि की। उनका कहना है कि संक्रमण से बचाव की जरूरत है। ऐसे में तनाव दूर करना भी जरूरी है लेकिन इसका असर मरीजों के इलाज या अस्पताल की व्यवस्था के विपरीत न हो।