प्रयागराज [शरद द्विवेदी]। प्रतियोगी छात्रों को अफसर बनने का एक और बड़ा अवसर जल्द मिलने वाला है। उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (UPPSC) आने वाले दिनों में अलग-अलग विभागों में भर्ती निकालने वाला है। सात हजार से अधिक पदों का अधियाचन तैयार हो रहा है। फरवरी और मार्च में अधिकतर पदों का विज्ञापन निकाला जाएगा। 

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) वर्षों तक विवादों में घिरा रहा। 2013 से 2017 तक यूपीपीएससी की परीक्षा और रिजल्ट को लेकर काफी विवाद हुआ। सीबीआइ यूपीपीएससी की 550 से अधिक परीक्षाओं व परिणामों की जांच कर रही है। इससे भर्ती प्रक्रिया पटरी से उतर गई थी, लेकिन जुलाई 2019 के बाद से पुरानी भर्तियों को पूरा कररिजल्ट जारी करने के साथ नई भर्ती निकालने के लिए अधियाचन तैयार करवाया जाने लगा है। अब विभिन्न विभागों में 7500 से अधिक पदों की भर्ती निकालने का काम अंतिम दौर में है। इसमें लगभग 4500 पदों पर सीधी भर्ती होगी।

बढ़ेगी परीक्षाओं की संख्या

भर्ती जल्द पूरी करने के लिए उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग 2020 के परीक्षा कैलेंडर में बदलाव करेगा। यूपीपीएससी ने 10 जनवरी को जो परीक्षा कैलेंडर जारी किया था, उसमें 16 परीक्षाएं कराने का जिक्र था। बाद में उसमें आरओ-एआरओ 2016 की परीक्षा जोड़ी गई। नया विज्ञापन निकलने पर कैलेंडर में परीक्षाओं की संख्या में इजाफा होगा।

इन पदों की निकलेगी भर्ती

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की ओर से कई महत्वपूर्ण पदों पर भर्ती निकाली जाएगी। इसमें पीसीएस-जे 2018 के 95, सम्मिलित राज्य अभियंत्रण सेवा 2017 के 544 व 2018 के 462, अपर निजी सचिव के 186, अपर निजी सचिव सचिवालय व लोकसेवा आयोग के 230, सहायक सांख्यिकी अधिकारी के 258, एलोपैथिक चिकित्साधिकारी के 1798, स्वास्थ्य शिक्षाधिकारी के 257, सहायक आचार्य एलोपैथिक मेडिकल कॉलेज के 700, शोध अधिकारी के 56, सहायक रेडियो अधिकारी के 12, पशु चिकित्साधिकारी के 58, पुस्तकालय अध्यक्ष के 110 सहित कंप्यूटर सहायक, स्टाफ नर्स, सहायक अध्यापक आदि की भर्तियां शामिल हैं।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस