इलाहाबाद (जेएनएन)। परिषदीय स्कूलों की सहायक अध्यापक भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा का परिणाम सोमवार को जारी हो गया है। इसमें 41556 अभ्यर्थी सफल घोषित हुए हैं। यह परिणाम सामान्य व पिछड़ा वर्ग के लिए 45 और अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के लिए 40 फीसद उत्तीर्ण प्रतिशत के आधार पर जारी किया गया है। इसमें महज 38.52 फीसद अभ्यर्थी ही उत्तीर्ण हो सके हैं। अभ्यर्थी परीक्षा नियामक प्राधिकारी की वेबसाइट पर विस्तृत परिणाम देख सकते हैं।

बेसिक शिक्षा परिषद के प्राथमिक स्कूलों में 68500 सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए परीक्षा नियामक प्राधिकारी सचिव ने 27 मई को प्रदेश के मंडल मुख्यालयों पर लिखित परीक्षा कराई थी। इम्तिहान के लिए एक लाख 25 हजार 746 अभ्यर्थियों ने पंजीकरण कराया, उसमें से करीब चार हजार से अधिक अभ्यर्थियों का आवेदन अर्हता पूरा न होने से निरस्त हुआ, बाकी सभी को प्रवेश पत्र जारी हुए।

उनमें एक लाख सात हजार 873 अभ्यर्थी ही परीक्षा में शामिल हुए। सचिव डॉ. सुत्ता सिंह ने बताया कि परीक्षा में 41556 अभ्यर्थी उत्तीर्ण घोषित किए गए हैं। परीक्षा परिणाम वेबसाइट www.upbasiceduboard.gov.in पर अपलोड कर दिया गया है। अनुक्रमांक भरने के बाद उसे देख सकते हैं और उसका प्रिंट भी निकाल सकते हैं। यह रिजल्ट वेबसाइट पर 30 अगस्त सायं छह बजे तक उपलब्ध रहेगा।

रिजल्ट याचिका के अधीन
सचिव ने बताया कि यह परीक्षाफल हाईकोर्ट इलाहाबाद में योजित याचिका विद्याचरण शुक्ल व बनाम अन्य बनाम उप्र राज्य व अन्य में पारित होने वाले निर्णय के अधीन होगी। ज्ञात हो कि यह शिक्षक भर्ती सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर कराई जा रही है। 25 जुलाई, 2017 को शीर्ष कोर्ट ने शिक्षामित्रों का समायोजन रद करके उन्हें दो अवसर दिए जाने का निर्देश दिया था।

दो बार बदला उत्तीर्ण प्रतिशत
शिक्षक भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन लेने के समय नौ जनवरी को शासन ने लिखित परीक्षा में सामान्य व ओबीसी वर्ग को 45 व एससी-एसटी के लिए 40 फीसद उत्तीर्ण प्रतिशत अंक तय किए थे। बाद में 21 मई को शासन ने कटऑफ बदलकर सामान्य व ओबीसी वर्ग को 33 व एससी-एसटी के लिए 30 फीसद अंक उत्तीर्ण प्रतिशत कर दिया था। 21 मई के आदेश को चुनौती दी गई और कोर्ट ने उसे नहीं माना, तब शासन ने नौ जनवरी के उत्तीर्ण प्रतिशत को बहाल कर दिया।

Posted By: Ashish Mishra

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस