प्रयागराज, जागरण संवाददाता। यूपी विधान सभा चुनाव को लेकर राजनीतिक हलचल तेज है। प्रमुख दलों में शामिल कांग्रेस ने भी तैयारी तेज कर दी है। अब चुनाव में खड़े होने के लिए दावेदारी भी होने लगी है। प्रयागराज  में कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ने के लिए 12 विधान सभा सीटों से कुल 78 उम्मीदवारों ने दावेदारी ठोकी है। पहली बार कांग्रेस ने प्रत्येक दावेदारों से पार्टी फंड में 11 हजार रुपये जमा कराए हैं। इस लिहाज से यदि देखा जाए तो अकेले प्रयागराज से पार्टी फंड में कुल आठ लाख 58 हजार रुपये जमा हो गए हैं।

कांग्रेस की नीति में बदलाव, अब प्रत्‍याशियों को 11 हजार रुपये देना होगा

कांग्रेस अब तक प्रत्याशियों की घोषणा होने के बाद उन्हें चुनाव लड़ने के लिए धन मुहैया कराती थी। हालांकि इस बार पार्टी ने अपनी रणनीति में बदलाव किया है। विधान सभा चुनाव को लेकर राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक दो महीने पहले हुई थी। उसमें यह फैसला लिया गया था कि टिकट के दावेदारों से पार्टी फंड में 11 हजार रुपये जमा कराए जाएंगे। इसके बाद ही उनके आवेदन पर विचार किया जाएगा।

आवेदकों ने 11-11 हजार रुपये पार्टी फंड में जमा कराए

आवेदन की अंतिम तिथि 10 अक्टूबर तय की गई थी हालांकि अब बढ़ा दी गई है। इस बीच प्रयागराज के 12 विधान सभा सीटों से 78 लोगों ने टिकट के लिए दावेदारी ठोकी। सभी ने 11-11 हजार रुपये पार्टी फंड के नाम पर जमा भी कर दिए। इनमें कुछ ने जिलाध्यक्ष को तो कुछ ने सीधे पीसीसी के पास सीधे आवेदन किया है।

गंगापार से 37 व यमुनापार से 19 आवेदन प्राप्‍त हुए

कांग्रेस के गंगापार जिलाध्यक्ष सुरेश यादव ने बताया कि उनके पास कुल 37 आवेदन आए हैं। फाफामऊ से छह, सोरांव से नौ, फूलपुर से 13, प्रतापपुर से पांच और हंडिया से चार आवेदन आए हैं। यमुनापार जिलाध्यक्ष अरुण तिवारी ने बताया कि उनके पास 19 लोगों ने आवेदन किए हैं। इनमें बारा से तीन, करछना से पांच, कोरांव से छह और मेजा से पांच आवेदन आए हैं। महानगर के तीन सीटों पर 12 ने टिकट मांगे हैं। इनमें शहर उत्तरी से दो, दक्षिणी से पांच और पश्चिमी से पांच आवेदन आए हैं।

आवेदन की तिथि अब 15 नवंबर

कांग्रेस के प्रदेश उपाध्‍यक्ष मकसूद खान ने बताया कि प्रयागराज से टिकट के लिए फिलहाल 78 दावेदारों ने आवेदन किया है। कांग्रेस ने 40 फीसद टिकट महिलाओं को देने का निर्णय लिया है। ऐसे में आवेदन की तिथि बढ़ाकर 15 नवंबर तय कर दी गई है। आवेदन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद ब्लाक अध्यक्षों से फीडबैक लिया जाएगा। फिर प्रदेश इलेक्शन कमेटी से दावेदारों की सूची स्क्रीनिंग कमेटी के पास भेजी जाएगी। वहां से टिकट पाने वालों की अंतिम सूची जारी की जाएगी।

Edited By: Brijesh Srivastava