प्रयागराज, [गुरुदीप त्रिपाठी]। उत्तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्त विश्वविद्यालय ने शैक्षणिक सत्र जुलाई 2021-22 में 18 तरह के पाठ्यक्रमों में प्रवेश पर रोक लगा दी है। इन विषयों में शिक्षार्थियों का रुझान लगातार घट रहा है। अब शिक्षार्थियों के रुझान के अनुरूप ही इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश पर लगाई गई रोक हटेगी। कुलपति की ओर से इस आशय का आदेश भी जारी कर दिया गया है।

नए सत्र में इस पाठ्यक्रम पर भी लगेगी रोक

मुक्‍त विश्वविद्यालय के मुख्य परिसर समेत उत्तर प्रदेश के सभी क्षेत्रीय केंद्रों (प्रयागराज, लखनऊ, बरेली, आगरा, मेरठ, कानपुर, झांसी, नोएडा, आजमगढ़, गोरखपुर, अयोध्या) के अलावा उनसे संबद्ध सभी 1300 अध्ययन केंद्रों पर डिग्री, डिप्लोमा और सर्टिफिकेट के अलावा जागरूकता पाठ्यक्रम संचालित किए जाते हैं। नए सत्र में कुल 18 पाठ्यक्रमों में साथ ही अवेयरनेस प्रोग्राम इन एचआइवी एंड फैमिली एजुकेशन (एपीएचएफई) में भी प्रवेश पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया है।

इन पीजी डिप्लोमा पाठ्यक्रम इन पर पाबंदी

विश्वविद्यालय प्रशासन ने नए सत्र में कुल 18 पाठ्यक्रम में प्रवेश पर पाबंदी लगाई है। पीजी डिप्लोमा के तहत पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन गांधियन थाट एंड पीस स्टडीज (पीजीडीजीटी एंड पीएस), पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन कंज्यूमर प्रोटेक्शन (पीजीडीसीपी), पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन टूरिज्म मैनेजमेंट (पीजीडीटीएम) और पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन हास्पिटल एंड पब्लिक हेल्थ मैनेजमेंट (पीजीडीएचएचएम) शामिल है।

डिप्लोमा पाठ्यक्रम में प्रवेश पर पाबंदी लगाई

डिप्लोमा इन हास्पिटलटी एंड होटल मैनेजमेंट (डीएचएचएम), डिप्लोमा इन टूरिज्म स्टडीज (डीटीएस), डिप्लोमा इन कंप्यूटर (डीआइसी), डिप्लोमा इन हार्डवेयर टेक्नालाजी (डीआइएचटी) और डिप्लोमा इन कंप्यूटर आफिस मैनेजमेंट (डीसीओएम) में प्रवेश पर पाबंदी लगाई गई है।

सर्टिफिकेट पाठ्यक्रम

सर्टिफिकेट इन एचआइवी एंड फैमिली एजुकेशन (सीएचएफई), सर्टिफिकेट इन टूरिज्म स्टडीज (सीटीएस), सर्टिफिकेट इन टूरिज्म मैनेजमेंट (सीटीएम), सर्टिफिकेट इन टैक्सेसन एंड एक्सपोर्ट-इंपोर्ट मैनेजमेंट (सीटीईआइएम), सर्टिफिकेट इन कंज्यूमर प्रोटेक्शन (सीसीपी), सर्टिफिकेट प्रोग्राम इन बी कीङ्क्षपग (सीआइबी), सर्टिफिकेट इन पोल्ट्री फार्मिंग (सीपीएफ), सर्टिफिकेट इन डिजास्टर मैनेजमेंट (सीडीएम) और सर्टिफिकेट इन हास्पिटैलिटी एंड होटल मैनेजमेंट (सीएचएचएम) में भी प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

मुक्‍त विश्‍वविद्यालय की कुलपति ने यह कहा

उत्‍तर प्रदेश राजर्षि टंडन मुक्‍त विश्‍वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर सीमा सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय में संचालित 18 तरह के पाठ्यक्रमों में नए सत्र जुलाई 2021-22 में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। इन पाठ्यक्रमों में प्रवेश लेने में छात्र-छात्राओं में दिलचस्पी काफी कम हो गई है। अगले सत्र में यदि आवेदन आते हैं तो प्रवेश दिया जाएगा।

Edited By: Brijesh Srivastava