प्रयागराज, जेएनएन। कोरोना संकट से देशभर में लागू लॉकडाउन के कारण परीक्षाओं के स्थगित होने का सिलसिला जारी है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) डिग्री कॉलेजों की प्राचार्य पद की लिखित परीक्षा स्थगित कर दी है। यह परीक्षा 19 अप्रैल को होना प्रस्तावित थी। परीक्षा की नई तारीख स्थिति सामान्य होने पर घोषित की जाएगी। यह तीसरा मौका है जब प्राचार्य पद की लिखित परीक्षा टली है। आयोग की सचिव डॉ. वंदना त्रिपाठी का कहना है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद प्राचार्य पद की लिखित परीक्षा की नई तारीख तय की जाएगी।

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) डिग्री कॉलेजों की प्राचार्य पद की लिखित परीक्षा तय तारीख के आठ दिन पहले स्थगित की है। अभी तक अभ्यर्थी लिखित परीक्षा को लेकर असमंजस की स्थिति में थे। आयोग ने अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) डिग्री कॉलेजों की प्राचार्य पद की लिखित परीक्षा की तारीख 19 अप्रैल तय की थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण कोई तैयारी नहीं हुई। प्रश्नपत्र बनाने, परीक्षा के केंद्र निर्धारण का काम भी नहीं हुआ था। अभ्यर्थियों का प्रवेश पत्र भी जारी नहीं किया गया था।

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) डिग्री कॉलेजों में प्राचार्यों की नियुक्ति के लिए उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने विज्ञापन संख्या 49 के तहत भर्ती निकाली है। आयोग ने 290 पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन 15 मार्च से 17 अप्रैल 2019 तक लिया। इसमें 1200 के लगभग आवेदन आए हैं। इसमें साढ़े नौ सौ अभ्यर्थी परीक्षा के लिए पात्र मिले हैं।

उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग ने लिखित परीक्षा दिसंबर माह में कराने की योजना बनाई थी, लेकिन आयोग उसके अनुरूप कार्रवाई पूरी नहीं करा पाया। फिर फरवरी माह में आयोग ने एक मार्च को लिखित परीक्षा कराने का कार्यक्रम जारी किया, लेकिन उचित तैयारी न होने पर आयोग उक्त तारीख को परीक्षा नहीं करा पाया। इसके बाद परीक्षा की तारीख बढ़ाकर 19 अप्रैल किया गया, लेकिन लॉकडाउन के कारण वह भी स्थगित कर दी गई है।

Posted By: Umesh Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस