प्रयागराज, जागरण संवाददाता। तीर्थराज प्रयागराज में 2025 में आयोजित महाकुंभ की तैयारियों के संबंध में यूपी के उप मुख्‍यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य आज सोमवार को प्रयागराज में हैं। प्रयागराज मेला प्राधिकरण के ट्रिपलआसी सभागार में अधिकारियों संग उन्‍होंने अहम बैठक की। बैठक में अब तक महाकुंभ को लेकर की गई तैयारियों का भी विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने प्रजेंटेशन दिया। बैठक में मौजूद सांसदों, विधायकों और अन्य जनप्रतिनिधियों की ओर से भी कुंभ के बेहतर आयोजन के लिए सुझाव दिए गए हैं।

केशव बाेले- स्‍वच्‍छता, सुरक्षा व श्रद्धालुओं की सुविधा की दृष्टि से उत्‍कृष्‍ट होगा कुंभ : बैठक के बाद मीडिया से मुखातिब डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि 2025 का महाकुंभ 2019 में आयोजित हुए कुंभ से भी अच्छा होगा। उन्होंने कहा है कि कुंभ का आयोजन विश्व का सबसे बड़ा धार्मिक आयोजन होता है। यह स्वच्छता की दृष्टि से, सुरक्षा की दृष्टि से और तीर्थयात्रियों व कल्पवासियों की सुविधाओं की दृष्टि से उत्कृष्ट आयोजन होगा।

तीर्थयात्रियों व श्रद्धालुओं की सुविधा का विशेष ध्‍यान रखा जाएगा : केशव मौर्य बोले कि बिजली, पानी और सड़क की दृष्टि से भी कुंभ मेले में अभूतपूर्व तैयारी की जाएगी, ताकि कुंभ मेले में किसी तरह की कोई समस्या आने वाले श्रद्धालुओं और तीर्थयात्रियों को नहीं हो। उन्होंने कहा है कि पहले से भी कुछ तैयारियां की गई हैं और आज की बैठक में जो महत्वपूर्ण सुझाव आए हैं उनको शामिल करते हुए 2025 के महाकुंभ का आयोजन होगा। डिप्टी सीएम ने कहा कि 2025 का महाकुंभ आने वाली पीढ़ियों के लिए 2019 से भी अच्छा और व्यवस्थित होगा।

कुंभ मेला में क्‍या सुविधाएं मिलेंगी : प्रयागराज शहर के सभी आरओबी का दोहरीकरण कराने पर चर्चा हुई। मेला में वीआइपी घाट स्थायी बनेगा। सरस्वती घाट का 30 मीटर विस्तार होगा। रिंग रोड का प्रथम फेज बनना है। शहर को ग्रीन बेल्ट के रूप में विकसित किया जाएगा। एसआरएन अस्पताल के एप्रोच मार्ग के विस्तार को लेकर सीडीओ समेत कई अधिकारियों के आवास टूटेंगे। बस अड्डे शिफ्ट किए जाएंगे।

संगम क्षेत्र में मांस-मदिरा बिक्री पर प्रतिबंध पर क्‍या बोले केशव : वहीं मथुरा की तर्ज पर तीर्थराज प्रयाग में भी संगम क्षेत्र में मांस और मदिरा की बिक्री प्रतिबंधित किए जाने की साधु-संतों की मांग के प्रश्‍न पर डिप्टी सीएम ने कहा कि निश्चित तौर पर यह मेला और तीर्थ क्षेत्र है। इस पर सरकार विचार करेगी। डिप्‍टी सीएम केशव मौर्य ने कहा कि अभी इस पर कोई निर्णय नहीं हुआ है। डिप्टी सीएम ने कहा है कि इस पर निर्णय शासन स्तर पर ही लिया जाएगा।

डिप्‍टी सीएम ने कहा कि मदरसों की समस्‍याओं को दूर किया जा रहा : दूसरी ओर मदरसों को सर्वे के नाम पर बदनाम किए जाने के लगाए जा रहे आरोपों पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि न मदरसों को बदनाम किया जा रहा है और न ही सर्वे के नाम पर परेशान किया जा रहा है। सर्वे केवल मदरसों की समस्याओं को दूर करने के लिए किया जा रहा है।

मेला प्राधिकरण कर्मियों के वेतन न मिलने की बात को गंभीरता से लिया : प्रयागराज मेला प्राधिकरण के कर्मचारियों को 6 माह से वेतन न दिए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा है कि अगर कर्मचारियों को वेतन नहीं मिला है तो इस मामले को शासन में जाकर देखेंगे। मेला प्राधिकरण का अलग बजट होता है और जल्द ही कर्मचारियों को वेतन भी मिलेगा।

Edited By: Brijesh Srivastava