प्रयागराज, जेएनएन। समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष योगेश यादव के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने शुक्रवार को कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी से मुलाकात की। आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर उन्हें ज्ञापन सौंपा गया। कहा गया कि कई अधिकारी कई वर्षों से जनपद में तैनात हैं। जबकि तीन वर्ष से अधिक समय तक कोई भी अधिकारी एक जिले में नहीं रह सकता। इसलिए इन्हें जल्द से जल्द हटाया जाना चाहिए। 

आरएसएस से बताया इन अधिकारियों का कनेक्शन

सपा जिलाध्यक्ष योगेश यादव ने कहा कि एडीजी जोन प्रेम प्रकाश, आइजी राकेश सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक आरएन विश्वकर्मा व सहायक आयुक्त/सहायक निबंधक सहकारिता प्रमोद वीर आर्य आरएसएस की बैठक में जाते हैं। भाजपा के मंत्री और विधायकों के इशारे पर काम कर रहे हैं। ऐसे में इनके रहते निष्पक्ष तरीके से चुनाव नहीं हो सकता। प्रतिनिधि मंडल में जिला सचिव विजय मुन्ना, नाटे चौधरी, कुलदीप यादव, आशुतोष तिवारी, कृपाशंकर बिंद, शोएब बच्चा, मुजीद फारूखी आदि रहे।

चुनाव ड्यूटी में लगाने के लिए फीडिंग का काम

विधानसभा चुनाव की तैयारियां प्रतापगढ़ में जोरों से चल रही है। 27 फरवरी को मतदान की तिथि निश्चित होने से इसकी तैयारियों में और तेजी आ गई है। एक और जहां 14 हजार से अधिक कर्मचारियों और अधिकारियों की चुनाव में ड्यूटी लगाने के लिए फीडिंग का कार्य चल रहा है, वहीं दूसरी ओर जिला प्रशासन ने महुली मंडी को अधिग्रहित कर लिया है। शहर के महुली मंडी में ढाई सौ व्यापारी ऐसे हैं, जो सब्जी फल आदि का कारोबार करते हैं, विधानसभा चुनाव के बाद मतगणना महुली मंडी में ही होती है। ऐसे में सभी व्यापारियों को 10 फरवरी तक की मोहलत दे दी गई है। इसके बाद इन सभी व्यापारियों को वहां से हटाया जाएगा। वह चिलबिला चौराहे समेत कुछ चिंहित स्थानों पर अपना कारोबार कर सकेंगे। मतगणना के बाद वह फिर से अपना कारोबार महुली मंडी में कर सकेंगे। महुली मंडी के सचिव रमेश चंद्र पांडे ने बताया कि सभी व्यापारियों को इसकी जानकारी दे दी गई है।

Edited By: Ankur Tripathi