इलाहाबाद, जेएनएन।  माध्यमिक शिक्षा परिषद की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट बोर्ड परीक्षा की निगरानी के लिए सचलदल दिनभर दौड़ लगाते रहे। सीसीटीवी तथा स्टेटिक मजिस्ट्रेटों की सख्त निगरानी के बीच चल रही बोर्ड परीक्षा से किनारा कसने वाले परीक्षार्थियों की संख्या में इजाफा हुआ है। हालांकि नकल व सामूहिक नकल वाले केंद्रों पर सख्त कार्रवाई जारी रही। इसके साथ ही हाईस्कूल की बोर्ड परीक्षा समापन की ओर बढ़ चली है। आगामी 28 फरवरी को इसका समापन होगा। जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा दो मार्च को संपन्न होगी। शनिवार को दो केंद्र व्यवस्थापक व एक अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक व पांच परीक्षार्थियों के विरुद्ध अलग-अलग जिलों में एफआइआर दर्ज कराई गई। वहीं, हाईस्कूल व इंटर में करीब तीन हजार ने परीक्षा छोड़ दी है। सूबे में हाईस्कूल व इंटर में 63 परीक्षार्थी नकल करते पकड़े गए। 

नकल करने कराने वाले पकड़े गए

यूपी बोर्ड परीक्षा में शनिवार को प्रथम पाली में हाईस्कूल में सामाजिक विज्ञान व इंटर में वाणिज्य वर्ग की गणित, प्रारंभिक सांख्यिकी की परीक्षा हुई। इसके लिए 8354 परीक्षा केंद्रों पर 31 लाख 82 हजार 265 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। जबकि, दूसरी पाली में इंटरमीडिएट की वाणिज्य व कृषि वर्ग की परीक्षा 2801 केंद्रों पर हुई। इसके लिए एक लाख 14 हजार 672 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि अब तक की परीक्षा में कुल 47 के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई है। फर्रुखाबाद में एक केंद्र व्यवस्थापक व एक अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक और कानुपर देहात में एक केंद्र व्यवस्थापक के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। साथ ही मथुरा व फिरोजाबाद में दो-दो व देवरिया जिले में एक परीक्षार्थी के विरुद्ध भी एफआइआर दर्ज हुई है। हाईस्कूल की परीक्षा में 20 बालक, 11 बालिका और इंटर में 31 बालक, एक बालिका सहित कुल 63 नकल करते पकड़े गए हैं। अब तक नकल करते पकड़े परीक्षार्थियों की संख्या 315 हो गई है। 

परीक्षा छोडऩे वालों की बढ़ रही संख्या

यूपी बोर्ड परीक्षा छोडऩे वालों का आकड़ा बढ़कर छह लाख 11 हजार 193 हो गया है। शनिवार को हाईस्कूल में 2780 और इंटर में 169 परीक्षार्थियों ने इम्तिहान छोड़ा है। परीक्षा छोडऩे वालों की संख्या और बढ़ सकती है, क्योंकि तमाम केंद्रों की रिपोर्ट बोर्ड मुख्यालय को नहीं मिल सकी है।  

मऊ और मुजफ्फरनगर से रिपोर्ट तलब 

यूपी बोर्ड ने प्रदेश के मऊ व मुजफ्फरनगर जिले में परीक्षा के पहले कॉपी लिखने व सामूहिक नकल की घटनाओं का संज्ञान लिया है। दोनों जिला प्रशासन से रिपोर्ट आने के बाद बोर्ड वहां परीक्षा के संबंध में निर्णय लेगा। माना जा रहा है कि परीक्षा निरस्त होने के साथ ही संबंधित केंद्र व्यवस्थापकों के विरुद्ध एफआइआर भी दर्ज कराई जा सकती है। 

सोमवार को इंटर गणित की परीक्षा 

यूपी बोर्ड में सोमवार को पहली पाली में हाईस्कूल में गुजराती, पंजाबी सहित राज्यों की भाषाओं की और इंटर में फल व खाद्य संस्करण आदि विषयों की परीक्षा होगी। वहीं, दूसरी पाली में हाईस्कूल में संगीत वादन, इंटर में गणित का इम्तिहान होगा। 

 

Posted By: Nawal Mishra