प्रयागराज, जेएनएन ।  पडोसी जनपद प्रतापगढ़ में स्कूल से गायब हुई दो सगी बहनों की रहस्यमय दशा में लाश सई नदी में पाई गई। परिजनों ने हत्या कर लाश फेंके जाने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है, जबकि पुलिस इसे सुसाइड मान रही है।

स्‍कूल के लिए घर से निकली थी दोनों बहनें

कोतवाली नगर के चकबनतोड़ गांव के सुभाष राव की बेटी शिवांगी (18) और अंजली (16) सोमवार की सुबह करीब आठ बजे घर से करीब एक किलोमीटर दूर अपने स्कूल एमवी एकेडमी के लिए घर से निकली थीं। वहां से दिन में करीब 11 बजे वह बाहर निकलीं, लेकिन घर नहीं पहुंची।

दिन में अज्ञात नंबर से बुआ को किया था कॉल

दिन में करीब दो बजे अज्ञात नंबर से लड़कियों की बुआ के मोबाइल पर कॉल आई। इसमें अंजली ने कहा कि अगर हम दोनों को पाना चाहती हो तो तुरंत बेल्हा देवी मंदिर चली आओ, वरना हम नहीं मिलेंगी। इतनी बात के बाद फोन स्विच ऑफ हो गया। घर के लोग आनन-फानन में मंदिर पहुंचे तो लड़कियां नहीं मिलीं। इस पर सुभाष ने कोतवाली नगर में अज्ञात के खिलाफ लड़कियों के अपहरण की तहरीर दी और खोजबीन शुरू कर दी।

सुबह नदी में मिली लाश

मंगलवार सुबह करीब नौ बजे पुलिस द्वारा सुभाष को सूचना मिली कि उनके बताए हुलिए की दो लड़कियां सांगीपुर थाना क्षेत्र के घुइसरनाथ धाम के पास सई नदी में मृत मिली हैं। इस पर सुभाष के भाई मौके पर पहुंचे और शव देखते ही रोने-बिलखने लगे। मौके पर एसपी समेत आलाधिकारी भी पहुंच गए।

पिता ने लगाया हत्‍या का आरोप

मामले में लड़कियों के पिता सुभाष का आरोप है कि जिस नंबर से बेल्हा देवी मंदिर पर फोन आया था। उस फोन का मालिक ही बेटियों का कातिल है। उसे पकड़ा जाए। एसपी अभिषेक सिंह ने इस सनसनीखेज वारदात को लेकर कहा है कि यह आत्महत्या का मामला लग रहा है। जांच की जा रही है। दोनों लड़कियों के एक-एक हाथ आपस में बंधे मिले हैं। इस मामले में अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस