प्रयागराज, जेएनएन। कुदरत का भी अजीब करिश्‍मा है। जी हां कल तक मौसम साफ था, गर्मी बढ़ रही थी लेकिन शुक्रवार की सुबह आसमान में घने बादल थे और रिमझिम बारिश हो रही थी। अचानक बदले मौसम से जाती हुई ठंड भी ठिठक गई। ग्रामीण इलाकों में तेज हवा के साथ बारिश से खेतों में फसल भी खराब हुई। वहीं गरजते-चमकते बादलों के बीच कौशांबी जनपद के पश्चिमशरीरा और प्रयागराज के फाफामऊ में बिजली भी गिरी। इससे दो की जान चली गई जबकि दो लोग झुलस गए।

जब हादसा हुआ तो कौशांबी के बाग में बच्‍चे पेड़ से बेर तोड़ रहे थे

पड़ोसी जनपद कौशांबी में मंझनपुर तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत सेगरहा में शुक्रवार की सुबह हादसा हुआ। बच्‍चे शिवरात्रि पर पूजन के लिए गांव के बाहर स्थित बाग में पेड़ से बेर तोड़ रहे थे। तभी बारिश होने लगी तो बच्‍चे पेड़ के नीचे खड़े हो गए। इसी बीच आकाशीय बिजली पेड़ के पास गिरी। इससे ललावन का नौ वर्षीय पुत्र बउवा समेत वहां मौजूद बच्‍चे आकाशीय बिजली की जद में आ गए। इससे बउवा की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं भानु पाल का आठ वर्षीय पुत्र अभय उर्फ ननका और बड़कू पाल का तीन वर्षीय पुत्र छोटा पाल झुलस गए।

गया था गंगा स्‍नान को, आकाशीय बिजली की जद में आने से हुई मौत

वहीं प्रयागराज में फाफामऊ स्थित गंगा घाट पर स्‍नान करने गया युवक आकाशीय बिजली की जद में आ गया। वह शुक्रवार की सुबह महाशिवरात्रि पर्व पर गंगा स्‍नान के लिए घाट पर गया था। इसी दौरान बारिश के दौरान आकाश से बिजली गिरी। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। फिलहाल यह नहीं पता चल सका कि वह कहां का रहने वाला है। पुलिस ने दोनों शवों को कब्‍जे में ले लिया है।

आंधी, बारिश ने फसलों को तबाह किया, किसान परेशान

बेमौसम हुई बारिश और आंधी का असर ग्रामीण अंचल में अधिक देखने को मिला। खेतों में लगी फसल जमीन पर गिर गई। इससे किसानों के माथे पर चिंता की रेखा नजर आने लगी है। यह हाल पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ और कौशांबी में भी नजर आया।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस