प्रयागराज, जेएनएन। पडोसी जनपद कौशाम्बी में मंझनपुर कोतवाली क्षेत्र के सेलरहा पश्चिम गांव के समीप बाइक सवार को बचाने के चक्कर में पिकअप गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गई। हादसे में पिकअप सवार 20 प्रवासी घायल हो गए। सभी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्‍पताल में एक युवक की हालत गंभीर बनी हुई है। सूचना पुलिस को दी गई है।

रास्‍ते में जितने लोग पैदल जाते मिले सबको को पिकअप में बैठा लिया

सैनी कोतवाली क्षेत्र के सोनारन का पूरा निवासी मूलचंद्र का भाई ओजस महाराष्ट्र के उल्हासनगर में प्राइवेट काम करता था। लॉक डाउन के चलते वह महाराष्ट्र में फंसा हुआ था। कई दिन पहले वह महाराष्ट्र में रह रहे अपने साथी जसवंत व बुधराज के साथ पैदल ही गृह जनपद के लिए रवाना हो गया। शुक्रवार की सुबह वह सभी सैनी के कनवार बॉर्डर पहुंचे। इसकी जानकारी मूलचंद्र को हुई तो वह अपनी पिकअप गाड़ी लेकर भाई व गांव के अन्य युवकों को लेने के लिए कनवार बॉर्डर पहुंच गया। मूलचंद की मानें तो सभी को गाड़ी में बैठा कर वह अपने गांव लौट रहा था। रास्ते में तमाम प्रवासी पैदल जाते हुए मिले। लिफ्ट मांगने पर मूलचंद ने उन्हें भी पिकअप के डाला में बैठा लिया। वह जैसे ही सेलरहा पश्चिम गांव के समीप पहुंचे थे कि सामने से आ रही बाइक को बचाने के चक्कर में पिकअप अनियंत्रित होकर पलट गई।

हादसे में ये हुए हैं जख्‍मी

हादसे में जसवंत, बुधराज व ओजस समेत गांव के ही यशमनी पुत्र अमरनाथ के अलावा पुरखास निवासी मिथुन पुत्र सुरेश बरइन का पूरा सरायअकील निवासी रमेश पुत्र मंगलदीन, रजनीश पुत्र रामाश्रय, नंदोली का पूरा सरायअकिल निवासी राम लोटन, कैलाश, संजीत, करारी के मंगौरा निवासी केशरी, सराय अकिल मुस्तफाबाद मुंजप्ता निवासी राजेंद्र, विजय, वीरेंद्र, अवधेश, चरवा निवासी राम सिंह, पश्चिम शरीरा निवासी राजेश, बरौली पश्चिम शरीरा निवासी कुलदीप, धर्मेंद्र और बंथरी सरायअकिल निवासी गुड्डू घायल हो गए। जबकि मूलचंद बाल-बाल बच गया। आसपास रह लोग भाग कर मौके पर पहुंचे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को एंबुलेंस की मदद से जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां गुड्डू की हालत गंभीर बनी हुई है। घटना की जानकारी होने पर परिवार के लोग भी अस्पताल पहुंचे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस