प्रयागराज, जेएनएन। ईद पर दो दिनों तक किसी प्रकार का बिजली आपूर्ति में व्यवधान नहीं उत्पन्न हो, इसके लिए पुराने इलाके में ट्राली ट्रांसफार्मरों की भी व्यवस्था की गई थी। कई उपकेंद्रों पर अतिरिक्त लाइनमैनों को तैनात किया गया। इनको क्षेत्र में लगातार पेट्रोलिंग करने का निर्देश दिया गया था। गनीमत रही कि ईद पर कहीं भी बिजली कटौती का लोगों को सामना नहीं करना पड़ा।

ताकि बारिश और आंधी से न झेलनी पड़े बिजली गुल होने की समस्या 

ईद पर दो दिन के लिए गुरुवार सुबह से ही करेली, खुसरोबाग, तेलियरगंज, गऊघाट, बमरौली समेत अन्य उपखंडों से संबंधित मुस्लिम बाहुल्य इलाकों में ट्राली ट्रांसफार्मरों की व्यवस्था की गई। आंधी, बारिश की वजह से ट्रांसफार्मर में कोई गड़बड़ी आने पर बिजली गुल होने की दशा में इसे वैकल्पिक व्यवस्था के तौर पर रखा गया था। इसके अलावा उपकेंद्रों पर अतिरिक्त लाइनमैनों की भी तैनाती की गई थी। उपखंडों के एसडीओ व जेई को भी कहीं भी कोई गड़बड़ी आने पर उच्चाधिकारियों को जानकारी देते हुए तत्काल मरम्मतीकरण कर आपूर्ति बहाल कराने के निर्देश दिए गए थे।

ईद से पहले बारिश से पड़ा सप्लाई मेंखलल

ईद से पहले दो-तीन दिनों तक भले ही मामूली रूप से बारिश हुई हो, लेकिन इसका सीधा असर बिजली आपूॢत पर पड़ा। पूरी रात कई मुहल्लों में बिजली की लुकाछिपी जारी रही। इससे लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। मुट्ठीगंज, रामबाग, बलुआघाट, मीरापुर, दरियाबाद, मलाकराज, साउथ मलाका समेत कई मुहल्लों में बारिश के दौरान बिजली गुल हुई तो गुरुवार सुबह सात बजे तक इसका आना-जाना लगा रहा। अधिकारियों का कहना है कि बारिश की वजह से कुछ जगहों पर जंपर उड़ गए थे, जिस कारण आपूर्ति प्रभावित हुई थी।