प्रयागराज, जेएनएन। ट्रांसपोर्टरों और भार वाहन मालिकों ने भार वाहनों के रोड टैक्‍स को माफ करने की मांग की है। इस संबंध में वे प्रयागराज ट्रांसपोर्ट यूनियन के अध्यक्ष अमर वैश्य मुन्ना भैया से मुट्ठीगंज ट्रांसपोर्ट कार्यालय में मिले। इस दौरान वाहनों का रोड टैक्स समेत अन्य कर को विगत तीन माह का शासन द्वारा रोड टैक्स माफ कराने की बात कही। तय किया गया कि इस समस्या के समाधान के लिए अधिकारियों से मिलकर ज्ञापन दिया जाएगा।

वाहन मालिकों का कहना है कि विगत दिसंबर के पूर्व से महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश एवं दिल्ली के राज्यों से उत्तर प्रदेश में उपभोक्ता वस्तुएं एवं खाद्यान्न वस्तुओं को लेकर भार वाहन भारी मात्रा में आवागमन कर रहे थे। उत्तर प्रदेश में मार्च से कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलने के कारण ट्रकों के भाड़े में काफी कमी आने के कारण भार वाहनों का आवागमन बहुत कम हो गया। इससे उत्तर प्रदेश में भाड़ा मिलने में परेशानी होने से ट्रकें खड़ा करने पर मजबूर हैं।

भार वाहन स्वामियों के समक्ष आर्थिक संकट उत्‍पन्‍न हो गया है। प्रयागराज ट्रांसपोर्ट यूनियन के अध्यक्ष ने उन्‍हें आश्‍वासन दिया। कहा कि ट्रक खड़े रहने से ड्राइवरों तथा खलासियो को वेतन तथा रोड टैक्स, पैसेंजर टैक्स समेत अन्य कर संभागी कार्यालय में जमा करने के लिए वाहन स्वामी को परेशानी हो रही है। ट्रक मालिकों पर आर्थिक संकट है।

उन्‍होंने कहा कि भार वाहनों के आवागमन के बंद होने के कारण तीन माह का रोड टैक्स जमा करने का कोई औचित्‍य नहीं है। इसलिए शासन को चाहिए कि ट्रक मालिकों के आर्थिक संकट को देखते हुए मार्च से मई के रोड टैक्स को शीघ्र माफ करने के लिए आदेश पारित करे। अमर वैश्य ने आश्वासन दिया कि विभाग के अधिकारियों से मिलकर समस्या का समाधान कराने का प्रयास किया जाएगा।