प्रयागराज,जेएनएन। मुंडेरा सब्जी मंडी में फिजिकल डिस्टेंसिंग (शारीरिक दूरी) को कड़ाई से लागू करने के मकसद से एक अहम फैसला लिया गया है। वहीं, अब स्वास्थ्य समस्या को लेकर परेशान होने की कतई जरूरत नहीं है। वह घर बैठे स्वास्थ्य समस्या का समाधान जान सकते हैं। इसके लिए 1920 नंबर डॉयल करना होगा फिर समस्या बतानी होगी।जबकि, कोरोना वायरस के संकट से पूरा देश परेशान है। संक्रमण रोकने के लिए लॉक डाउन लागू कर लोगों को घरों में रहने की अपील की गई है।

 Prayagraj Lockdown Day 6 : एक अप्रैल से रात दस से सुबह छह बजे तक खुलेगी मुंडेरा सब्जी मंडी

मुंडेरा सब्जी मंडी में फिजिकल डिस्टेंसिंग (शारीरिक दूरी) को कड़ाई से लागू करने के मकसद से एक अहम फैसला लिया गया है। कल यानी एक अप्रैल से मंडी रात में खुलेगी और सुबह बंद होगी। फिलहाल, यह व्यवस्था लॉकडाउन तक के लिए लागू की गई है। जिला प्रशासन तीन-चार दिनों से इस कवायद में जुटा था कि मंडी दिन के बजाय रात में खुले। सचिव और व्यापारियों के बीच कई दौर की बैठक के बाद सोमवार को व्यापारियों ने इस पर रजामंदी जताई। व्यापारियों ने एक अप्रैल से मंडी रात में 10 से सुबह छह बजे तक खोलने का निर्णय लिया है।

ध्यान दें, Lockdown में घरों में रहकर 1920 नंबर पर करें फोन, मिलेगा ऑनलाइन इलाज

 लॉकडाउन के दौरान घरों में रहने वाले लोगों को अब स्वास्थ्य समस्या को लेकर परेशान होने की कतई जरूरत नहीं है। वह घर बैठे स्वास्थ्य समस्या का समाधान जान सकते हैं। इसके लिए 1920 नंबर डॉयल करना होगा फिर समस्या बतानी होगी। उसके बाद डॉक्टर सुझाव देंगे। जरूरत होगी तो दवा भी बताएंगे। यह सेवा लॉकडाउन तक लोगों को मिलेगी। स्मार्ट सिटी प्रयागराज ने लोगों की सुविधा के लिए यह सेवा शुरू की है। सोमवार से इसका संचालन शुरू हो रहा है। इस नंबर पर एक साथ 30 लोगों की बात हो सकती है। व्यक्ति को जिस प्रकार की तकलीफ होगी, उससे संबंधित डॉक्टर से फोन करने वाले की बात कराई जाएगी। अगर ज्यादा जरूरत होगी तो डॉक्टर का मोबाइल नंबर दिया जाएगा, ताकि व्यक्ति वीडियो कॉल करके अपनी समस्या डॉक्टर को दिखा सके।

Prayagraj Lockdown Day 6 : ​​​​​कोरोना वायरस के खतरे के बीच प्रयागराज में अपराध का घटा ग्राफ  कोरोना वायरस के संकट से पूरा देश परेशान है। संक्रमण रोकने के लिए लॉक डाउन लागू कर लोगों को घरों में रहने की अपील की गई है। बाहर आने पर सख्ती हो रही है। ऐसे में पुलिस का काम बढ़ गया है। दिन भर लोगों को सड़क से हटाने के लिए सक्रिय रहते हैं ताकि महामारी काबू में आ सके। हालांकि लॉकडाउन का दूसरा पक्ष यह भी है कि हर तरह के अपराध और मुकदमों में खासी गिरावट भी आई है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस