प्रयागराज,जेएनएन। जिले के सोरांव इलाके में प्रापर्टी डीलर को अगवा कर बदमाशों ने कत्ल कर दिया। इसके बाद प्रापर्टी डीलर का शव बहोरीपुर गांव में जमीन खोदकर गाड दिया। वहीं, प्रतापगढ़ जनपद में दस वर्षीय बच्चे को अगवा कर फिरौती की मांग कर रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक बदमाश के पैर में गोली लगी और वह जख्मी हो गया। पुलिस ने बच्‍चे को सकुशल बरामद कर लिया। जबकि, इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) के पूर्व कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हांगलू पर लगे आरोपों की जांच करने के लिए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) की टीम सोमवार की सुबह इविवि पहुंच गई।

मलाका में प्रापर्टी डीलर का कत्ल कर जमीन में दफनाया, सनसनी 

जिले के सोरांव इलाके में प्रापर्टी डीलर को अगवा कर बदमाशों ने कत्ल कर दिया। इसके बाद प्रापर्टी डीलर का शव बहोरीपुर गांव में जमीन खोदकर गाड दिया। सोरांव के मलाका गांव निवासी देवनाथ मिश्र अधिवक्ता हैं। उनके दो बेटों में नीरज कुमार मिश्र प्रापर्टी डीलर था। शनिवार की शाम वह बाइक से दवा लेने निकला था। इसके बाद लौटकर घर नहीं पहुंचा था। बताया जाता है कि प्रापर्टी डीलर की धारदार हथियार से काटकर हत्या के बाद जमीन में दफना दिया गया था। मृतक प्रापर्टी डीलर नीरज के घर में कोहराम मचा हुआ है। पत्नी और बच्चों की आंखों से आंसू थम नहीं रहे हैं। पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में प्रापर्टी डीलिंग और पैसे के लेनदेन का विवाद सामने आ रहा है। इसी खुन्नस में कत्ल किया गया है।

बच्चे का अपहरण कर फिरौती मांग रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़, तीन गिरफ्तार

प्रतापगढ़ जनपद में दस वर्षीय बच्चे को अगवा कर फिरौती की मांग कर रहे बदमाशों की पुलिस से मुठभेड़ हो गई। पुलिस की जवाबी फायरिंग में एक बदमाश के पैर में गोली लगी और वह जख्मी हो गया। जबकि बदमाशों को पुलिस ने गिरफतार किया है। नगर कोतवाली के सिपाह महेरी निवासी रामसुंदर पाल रिटायर्ड रेलवेकर्मी हैं। उनके बेटे नितेश कुमार (10) को प्राइमरी पाठशाला सिपाह महेरी के पास से क्रिकेट खेलते समय रविवार की दोपहर बदमाशों ने अगवा कर लिया था। बदमाशों ने कुछ देर बाद फोन कर परिजनों से10 लाख रुपये की फिरौती की मांग की थी।

पूर्व कुलपति प्रोफेसर हांगलू पर लगे आरोपों की जांच करने पहुंची मंत्रालय की टीम

 इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) के पूर्व कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हांगलू पर लगे आरोपों की जांच करने के लिए केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एचआरडी) की टीम सोमवार की सुबह इविवि पहुंच गई। पूर्व कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हांगलू पर वित्‍तीय, शैक्षिक अनियमितता और शोषण के आरोप लगे थे। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय की टीम दोबारा आरोपों की जांच करने विश्‍वविदयालय आई है।  इस बार जांच टीम के अध्यक्ष इग्नू के कुलपति प्रो. नागेश्वर राव और गुजरात केंद्रीय विवि के कुलपति प्रो. रमाशंकर दुबे ही आए हैं। टीम में शामिल तीसरे सदस्य इंदिरा गांधी राष्ट्रीय जनजाति विवि अमरकंटक के मध्य प्रदेश के कुलपति प्रो. श्रीप्रकाश मणि त्रिपाठी किन्हीं कारणों से नहीं आये हैं। टीम अपनी रिपोर्ट एक महीने के भीतर मंत्रालय को सौंप देगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस