प्रयागराज, जेएनएन।माघ मेला-2020 में मकर संक्रांति पर बुधवार को ही संगम पर आस्था हिलोर लेती दिख रही है। भोर से ही श्रद्धालुओं ने पवित्र त्रिवेणी में पुण्य की डुबकी लगानी शुरू कर दी और शाम तक लगभग साठ लाख श्रद्धालुओं ने डुबकी लगाई है। वहीं, धूमनगंज थाना क्षेत्र में एक युवक की हत्या कर दी गई। गला रेतकर उसे हत्यारों ने मौत के घाट उतारा। देवघाट झलवा में निजी हॉस्पिटल के पास स्थित झाड़ी में उसकी लाश लोगों ने देखी। जबकि, लिफ्ट देकर बाइक सवार युवकों ने महिला से दुष्कर्म किया। लोकलाज के डर से पीडि़ता ने जहर खा लिया। हालत बिगडऩे पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

Makar Sankranti : गंगा-यमुना व सदृश्य सरस्वती के तीरे संगम पर उमड़ी आस्था, 43 लाख ने लगाई डुबकी माघ मेला-2020 में मकर संक्रांति पर बुधवार को ही संगम पर आस्था हिलोर लेती दिख रही है। भोर से ही श्रद्धालुओं ने पवित्र त्रिवेणी में पुण्य की डुबकी लगानी शुरू कर दी है। वहीं मंगलवार की भोर से ही स्नान करने श्रद्धालु पहुंचने लगे थे। कल ही शाम तक लाखों लोगों ने स्नान कर लिया था। मकर संक्रांति के पर्व पर शाम छह बजे तक करीब 60 लाख श्रद्धालु संगम व गंगा के घाटों पर डुबकी लगा चुके थे। ऐसा प्रशासन का दावा है। घोषित तौर पर मकर संक्रांति का स्नान पर्व बुधवार को है पर इस बार एक दिन पहले ही संगम की रेती पर बड़ी तादाद में श्रद्धालु पहुंच गए थे। इनमें ऐसे लोगों की संख्या ज्यादा थी, जो 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति मनाते हैैं। स्नानार्थी सोमवार रात से ही तंबुओं की नगरी में पहुंचने लगे थे। स्नान कर दान-पुण्य कर पूजन-अर्चन भी किया। वहीं बुधवार तड़के गंगा और संगम तट श्रद्धालुओं से लबालब दिखाई देने लगा। स्नान, ध्यान और दान का सिलसिला जारी है। मंगलवार को स्नान के बाद भी बड़ी संख्या में श्रद्धालु तंबुओं की नगरी में रुके रहे, बुधवार को भी पुण्य की डुबकी लगा रहे हैं।

धूमनगंज में युवक की गला रेतकर हत्या, झाड़ी में मिला शव

 धूमनगंज थाना क्षेत्र में एक युवक की हत्या कर दी गई। गला रेतकर उसे हत्यारों ने मौत के घाट उतारा। देवघाट झलवा में निजी हॉस्पिटल के पास स्थित झाड़ी में उसकी लाश लोगों ने देखी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पहचान की कोशिश की, फिलहाल अभी तक उसकी पहचान नहीं हो सकी है। पुलिस वारदात स्थल पर जांच-पड़ताल कर रही है। देवघाट झलवा में मंगलवार की रात में अज्ञात युवक की गला रेतकर हत्या कर दी गई। सुबह उसकी लाश आबादी से दूर देवघाट झलवा में झाड़ी में मिली। सुबह उधर से निकलने वालों ने रक्तरंजित लाश देखी तो भीड़ लग गई। इसी बीच सूचना लोगों ने पुलिस को दी। जानकारी होने पर धूमनगंज थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। आसपास के लोगों से पहचान कराने की पुलिस ने कोशिश की लेकिन शिनाख्त नहीं हो सकी। जांच-पड़ताल करने के बाद पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। युवक के बारे में पता लगाया जा रहा है।

प्रतापगढ़ में सामूहिक दुष्कर्म की शिकार पीडि़ता ने खाया जहर

लिफ्ट देकर बाइक सवार युवकों ने महिला से दुष्कर्म किया। लोकलाज के डर से पीडि़ता ने जहर खा लिया। हालत बिगडऩे पर उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जानकारी पाकर पुलिस व प्रशासनिक अफसर सकते में आ गए। आनन-फानन में पीडि़ता का बयान दर्ज किया गया। वैसे पुलिस अफसर मामले को संदिग्ध भी बता रहे हैैं। प्रतापगढ़ जनपद में कंधई थाना क्षेत्र की एक विवाहिता 10 जनवरी को इलाज कराने जिला अस्पताल आई थी। दोपहर में पैदल घर लौट रही थी, तभी रास्ते में खीरीबीर घाट के पास दो बाइकों पर सवार चार लोग मिले। इनमें एक उसका परिचित था। घर तक पहुंचाने की बात कहकर महिला को बाइक पर बैठा लिया। पीडि़ता की मानें तो बाइक सवार उसे जर्जर रेलवे कालोनी में ले गए और सामूहिक दुष्कर्म किया।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस