प्रयागराज,जेएनएन। पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ में नवाबगंज थानाक्षेत्र के आलापुर चौराहे के समीप बुधवार आधी रात तेज रफ्तार कार में बेकाबू पिकअप ने टक्कर मार दी। हादसे में कार सवार डायल 112 के सिपाही की मौत हो गई। वहीं, औद्योगिक क्षेत्र के गंगा नदी में मनईया घाट पर गुरु वार सुबह लगभग दस बजे नाव पलट गई। नाव में बीस लोग सवार थे। 19 लोगों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया जबकि एक किशोर लापता है। जबकि तीन साल से फरार शहर पश्चिमी के पूर्व सपा विधायक अशरफ के खिलाफ नए साल के पहले ही रोज एक और नामजद मुकदमा लिखा गया है। उसके खिलाफ कोर्ट के आदेश के बावजूद हाजिर नहीं होने की एफआइआर लिखी गई है।

 कार से भिड़ी पिकअप, डायल 112 में तैनात सिपाही मौत

पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ में नवाबगंज थानाक्षेत्र के आलापुर चौराहे के समीप बुधवार आधी रात तेज रफ्तार कार में बेकाबू पिकअप ने टक्कर मार दी। हादसे में कार सवार डायल 112 के सिपाही की मौत हो गई। कौशांबी जिले में महेवाघाट थानाक्षेत्र के डक शरीरा गांव का रहने वाला बत्तीस वर्षीय राम कुमार शुक्ला पुत्र जगन्नाथ शुक्ल पुलिस महकमें में सिपाही था। इन दिनों उसकी तैनाती अमेठी जनपद के कमरौली थानाक्षेत्र में डायल 112 में थी। वह बुधवार रात डयूटी के बाद छुट्टी लेकर कार से अपने गांव जा रहा था। रास्ते में प्रतापगढ़ जनपद के नवाबगंज थानाक्षेत्र में आलापुर चौराहे के पास पहुंचा था कि तेज रफ्तार पिकअप ने उसकी कार में सामने से टक्कर मारते हुए निकल गई। हादसे में कार के परखच्चे उड़ गए। कार चला रहे राम कुमार की मौत हो गई।

औद्योगिक क्षेत्र में गंगा नदी में नाव पलटी, 20 लोग थे सवार, एक किशोर डूबा

औद्योगिक क्षेत्र के गंगा नदी में मनईया घाट पर गुरु वार सुबह लगभग दस बजे नाव पलट गई। नाव में बीस लोग सवार थे। शोरगुल सुनकर आसपास के मल्लाह डूब रहे लोगों को बचाने के लिए नदी में कूद पड़े। काफी मशक्कत के बाद 19 लोगों को सकुशल बाहर निकाल लिया गया। लेकिन एक छात्र लापता है। औद्योगिक क्षेत्र में बुधवार सुबह मनईया घाट पर बीस लोग नाव में बैठकर गंगा नदी के दूसरी ओर जा रहे थे। बीच धारा में पहुंचने पर नाव अनियंत्रित होकर डगमगाने लगी। इससे नाव पलट गई। नाव में बैठे लोग डूबने लगे तो बचाने की गुहार लगाई। यह देखकर घाट पर मौजूद लोग और मल्लाह लोगों को बचाने के लिए नदी में कूद पड़े। काफी मशक्कत के बाद 19 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। लेकिन 12 वर्षीय किशोर आकाश कुमार पुत्र श्याम बाबू निवासी माहिया डूब गया।

 

फरार पूर्व विधायक अशरफ पर एक और मुकदमा दर्ज

करीब तीन साल से फरार शहर पश्चिमी के पूर्व सपा विधायक अशरफ के खिलाफ नए साल के पहले ही रोज एक और नामजद मुकदमा लिखा गया है। उसके खिलाफ कोर्ट के आदेश के बावजूद हाजिर नहीं होने की एफआइआर लिखी गई है। बसपा विधायक राजू पाल हत्याकांड का आरोपित खालिद अजीम उर्फ अशरफ  वर्ष 2017 में प्रदेश में योगी सरकार बनने के बाद से ही फरार है। उसकी गिरफ्तारी पर एडीजी स्तर से एक लाख रुपये का इनाम घोषित है। फरारी के बाद उसके खिलाफ चार मुकदमे दर्ज हो चुके हैैं जबकि तीन बार कोर्ट के आदेश पर कुर्की हो चुकी है। करीब दो साल पहले दर्ज रंगदारी के लिए धमकी के मुकदमे में भी चार महीने पहले अदालत से कुर्की की उद्घोषणा जारी करते हुए कोर्ट में हाजिर होने का आदेश जारी किया गया था। उपनिरीक्षक नित्यानंद सिंह ने इस आदेश का भी चकिया में अशरफ के निवास पर गवाहों के समक्ष तामीला कराया था लेकिन अब तक अशरफ हाजिर नहीं हुआ। वह लगातार फरार चल रहा है। कोर्ट के आदेश की अवहेलना करने पर बुधवार को उपनिरीक्षक नित्यानंद सिंह ने अशरफ के खिलाफ धूमनगंज थाने में तहरीर दी तो धारा 174 ए के तहत मुकदमा लिखा गया। अशरफ की गिरफ्तारी पर इनाम बढ़ाकर ढाई लाख रुपये करने की संस्तुति एसएसपी द्वारा की गई है मगर वह अभी तक शासन में लंबित है।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस