प्रयागराज, जेएनएन। पिछले करीब 36 घंटे से लगातार कभी तेज तो कभी रिमझिम बारिश ने भयावह रूप धारण कर लिया है। मकानों में सीलन से कच्‍चे और जर्जर मकान ध्‍वस्‍त हो रहे हैं। ऐसे हादसे में अब तक प्रयागराज समेत प्रतापगढ़ और कौशांबी में मकान गिरने से 11 की मौत व 12 जख्‍मी हुए हैं। वहीं लगातार हो रही बारिश के कारण शहर के अनेकों मोहल्‍ले और सड़काें के साथ गलियों में जलभराव हो गया है। बिजली भी अधिकांश इलाकों में गुल हो गई। यातायात भी प्रभावित हुआ है। इसी क्रम में ईश्‍वर शरण डिग्री कॉलेज के छात्र और छात्राएं अब यहीं से बीएएलएलबी की डिग्री ग्रहण कर सकेंगे। कोर्स को अनुमति मिल गई है।

बारिश से प्रयागराज, प्रतापगढ़ व कौशांबी में मकान ढहे, 11 की मौत, 12 जख्‍मी

प्रयागराज समेत पड़ोसी जनपद प्रतापगढ़ और कौशाबी में बारिश ने कहर बरपाया। लगातार हो रही बारिश ने जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। गुरुवार से बारिश का क्रम जारी है, ऐसे में पुराने और जर्जर भवनों के साथ ही कच्चे मकानों पर शामत है। बारिश के दौरान गुुरुवार की रात से लेकर सुबह तक प्रयागराज और प्रतापगढ़ के कई स्थानों पर मकान और दीवारों के ढहने की घटनाएं हुईं। हादसों में 11 लोगों की मौत और 12 जख्मी हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। प्रतापगढ़ में सात, प्रयागराज में तीन और कौशांबी में एक की मौत हुई है। बारिश अभी रुकी नहीं है। इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि जर्जर और कच्‍चे मकानों के और भी गिरने की आशंका जताई जा रही है।

पिछले 10 घंटे में 80.4 मिमी हुई बारिश, जनपद में बरस रही आफत

गुरुवार से शुरू हुई बारिश शुक्रवार की दिन भर कभी झमाझम तो कभी रिमझिम होती रही। शाम तक बारिश का क्रम जारी रहा। आसमान पर घने बादलों के कारण दिन में भी अंधेरा छाया रहा। सुबह आठ से शाम छह बजे तक 80.8 मिमी बारिश रिकार्ड की गई। वहीं गुरुवार की सुबह आठ बजे से शुक्रवार की सुबह आठ बजे तक जिले में 31.8 मिमी बारिश हो चुकी थी। बारिश बंद होने की अभी फिलहाल कोई संभावना नजर नहीं आ रही है। जिले में लगातार हो रही रिकार्ड बारिश ने ने जनजीवन अस्‍त-व्‍यस्‍त कर दिया है। बारिश से शहर में हर तरफ जलभराव हो गया है। लोग घरों में दिन भर कैद रहे। शहर के बाजारों में शटर नहीं खुले।

ईश्वर शरण डिग्री कॉलेज से बीएएलएलबी की अनुमति मिली

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के संघटक ईश्वर शरण पीजी कॉलेज के छात्र और छात्राओं के लिए खुशखबरी है। वह यहां से बीएएलएलबी कर सकेंगे। कॉलेज में बीएएलएलबी (ऑनर्स) का कोर्स शुरू करने के लिए बार कौंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआइ) ने मंजूरी दे दी है। कॉलेज में कुल 60 सीटों पर 30 सितंबर से प्रवेश मिलेगा। इविवि की ओर से आयोजित प्रवेश परीक्षा में सभी वर्गों में 140 अथवा अधिक अंक पाने वालों को प्रवेश दिया जाएगा। कॉलेज में बीएएलएलबी की 120 सीटों की मंजूरी का प्रस्ताव बीसीआइ को भेजा गया था। इससे पहले इलाहाबाद विश्वविद्यालय की टीम ने कॉलेज का निरीक्षण किया था। इससे संतुष्ट होने के बाद ही बीसीआइ को प्रस्ताव भेजा गया था। बीसीआई की टीम 11 जुलाई को कॉलेज में निरीक्षण करने आई थी।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप