जासं, प्रयागराज : 1990 व 1992 में राम मंदिर के आंदोलन का केंद्र रहा कीडगंज का बनवासी छात्रावास भी पांच अगस्त को रोशनी से जगमग होगा। सुबह से ही भजन कीर्तन, हनुमान चालीसा व सुंदरकांड शुरू हो जाएगा। यहां सोमवार को विहिप, बजरंगदल के पदाधिकारियों की बैठक हुई। बताया गया कि 1990 व 1992 में यहीं पर विश्व हिंदू परिषद पूर्वी उत्तर प्रदेश का कार्यालय होता था। यह स्थान मंदिर आंदोलन से जुड़ी अधिकांश गतिविधियां का केंद्र था। अब अयोध्या में श्री राम का भव्य मंदिर बनाने के लिए भूमिपूजन किया जा रहा है तो बनवासी छात्रावास में भी दीपोत्सव का आयोजन किया जाएगा।

पांच अगस्त की सुबह से ही धार्मिक आयोजन शुरू हो जाएगा। इस मौके पर कार्यालय को आकर्षक ढंग से सजाया भी जाएगा। शाम को सामूहिक दीपदान किया जाएगा। बैठक के बाद कार्यकर्ताओं ने घर-घर जाकर सभी से आग्रह किया कि पांच अगस्त को सभी लोग घरों में भजन कीर्तन करें। शाम को दीप भी जलाएं। इस मौके पर विहिप के प्रात कार्यसमिति सदस्य विनोद अग्रवाल, विभाग मंत्री अमर नाथ तिवारी भी मौजूद रहे। बजरंग दल के प्रयाग महानगर सह संयोजक अमित सिंह ने बताया कि पूरे महानगर में टोली बनाकर कार्यकर्ता जनसंपर्क कर रहे हैं। अमित सिंह, संजय श्रीवास्तव, नितिन भरद्वाज, संजय सिंह राणा, हिमाशु जायसवाल, अभय वर्मा, विशाल यादव ने भी जनसंपर्क किया। श्री राम जानकी मंदिर में किया विशेष पूजन

श्री राम जानकी मंदिर कीडगंज में भाजपा महानगर अध्यक्ष गणेश केसरवानी ने विशेष पूजा अर्चना की। संगम आरती भी की। सभी का आह्वान किया कि अयोध्या में भूमि पूजन वाले दिन लोग घरों में रहकर दीपदान जरूर करें। उन्होंने ऑनलाइन हुई बैठक में कहा कि भूमिपूजन का कार्यक्रम किसी पर्व से कम नहीं है। समूचे जनमानस को इस आयोजन से जोड़ना है। इस मौके पर राजेश केसरवानी, टीएन दीक्षित, गिरजेश मिश्रा आदि मौजूद रहे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस