प्रयागराज, जागरण संवाददाता। पूर्वोत्तर में प्राकृतिक आपदा से हालात बिगड़ गए हैं। लगातार बारिश के कारण दीमा हसाओ जिले में बाढ़ आ चुकी है और रेलवे लाइन तक बह गई। कई स्टेशनों की पटरियों पर कीचड़ और जल भराव से यह पता ही नहीं चल रहा कि ट्रैक कहां है। पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन से पटरियों के नीचे की जमीन धंस जाने से जगह जगह रेल पटरियां हवा में झूलने लगी हैं। यात्रियों को किसी तरह से रेस्क्यू कर वहां से निकाला जा रहा है। हालात खराब होने से ट्रेन संचालन गंभीर रूप से प्रभावित हुआ है। पूर्वोत्तर जाने वाली ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ है।

चार जोड़ी ट्रेनें निरस्त

छिवकी व प्रयागराज जंक्शन से गुजरने वाली चार जोड़ी ट्रेनें 22 मई से चार जुलाई तक निरस्त रहेंगी। उत्तर मध्य रेलवे के सीपीआरओ डा. शिवम शर्मा ने बताया कि पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के लामडिंग मंडल के जाटिंगा-न्यू हारगांजाओं व बंदरखाल-डिटकछड़ा खंड में जल भराव, बाढ़, भूस्खलन के कारण चार जोड़ी ट्रेनें निरस्त की गई हैं।

ये ट्रेनें हुई निरस्त

इसमें 14620 फिरोजपुर कैंट -अगरतला एक्सप्रेस 23, 30 मई, छह, 13, 20, 27 जून को नहीं चलेगी। 14619 अगरतला -फिरोजपुर कैंट एक्सप्रेस 26 मई, 02,09, 16, 23, 30 जून तक निरस्त रहेगी। 14037 सिलचर -नई दिल्ली पूर्वोत्तर संपर्क क्रांति 23, 30 मई, छह, 13, 20, 27 जून व चार जुलाई को संचालित नहीं होगी। 14038 नई दिल्ली -सिलचर पूर्वोत्तर संपर्क क्रांति 19, 26 मई, दो, नौ, 16, 23, 30 जून को नहीं चलेगी।

ये ट्रेनें भी नहीं चलेंगी

20501 अगरतला -आनंद विहार तेजस एक्सप्रेस 23, 30 मई, छह, 13, 20, 27 जून को, 20502 आनंद विहार-अगरतला तेजस एक्सप्रेस 25 मई, एक, आठ, 15, 22, 29 जून को व 01665 रानी कमलापति -अगरतला स्पेशल 19, 26 मई, दो, नौ, 16, 23, 30 जून को निरस्त रहेगी। इसके अलावा 01666 अगरतला -रानी कमलापति स्पेशल 22, 29 मई, पांच, 12, 19, 26 जून, तीन जुलाई को अपने प्रारंभिक स्टेशन से निरस्त रहेगी।

Edited By: Ankur Tripathi