प्रयागराज, जेएनएन। लगातार नैनी जेल के बाहर ड्यूटी करने से परेशान जेल वार्डन द्वारा वरिष्ठ जेल अधीक्षक पर जान से मारने की धमकी और गाली देने का एक आडियो वायरल होने से जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। उसे आनन-फानन में महाराजगंज जेल के लिए रिलीव कर दिया गया। उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करने की भी बात कही गई है।

नशे में गया था अधीक्षक के आवास पर

जेल वार्डन अभय कुमार सिंह का आरोप है कि उसने शुक्रवार शाम वरिष्ठ जेल अधीक्षक के आवास पर जाकर उनसे छुट्टी देने का आग्रह किया था। इस पर उन्होंने अगले दिन कार्यालय में आने की बात कही थी। जब वह उनके कार्यालय पहुंचा तो उसे गाली देते हुए जान से मारने की धमकी दी गई। वरिष्ठ जेल अधीक्षक पीएन पांडे का कहना है कि शुक्रवार की शाम एक महिला समेत तीन ट्रेनी अधिकारी उनसे मिलने आवास पर आए थे। उसी दौरान वार्डर अभय सिंह और दिनेश कुमार मीणा उनके आवास पर बदहवास स्थिति में पहुंचे थे। वे दोनों नशे में थे। उनकी वर्दी अस्त व्यस्त थी। उन्होंने उनसे सवाल दागा कि अधिकांश समय उन्हें क्यों जेल से बाहर ड्यूटी दी जाती है। अब उनकी ड्यूटी अंदर लगाई जाए। उन्होंने बताया कि उस दौरान उनकी बेटी और पत्नी मौजूद थी। मौके की नजाकत को देखते हुए उन्हें अगले दिन आफिस में आने को कहा था। अभय को कई दिनों पहले ही महाराजगंज जेल स्थानांतरित कर दिया गया था, लेकिन वह ज्वाइन नहीं कर रहा था। इसलिए उसे यहां से रिलीव कर दिया गया।

वार्डर के खिलाफ होगी कार्रवाई बोले डीआईजी 

डीआईजी जेल संजीव त्रिपाठी का कहना है कि यह मामला उनके संज्ञान में है। वार्डर ने अपने वरिष्ठ जेल अधीक्षक के साथ अनुशासनहीनता की है। उसका कई दिन पहले ही महाराजगंज जिला कारागार स्थानांतरण हो गया था, लेकिन वह ज्वाइन नहीं कर रहा था, इसलिए उसे शनिवार को यहां से रिलीव कर दिया गया। वार्डर अभय कुमार सिंह पहले भी अधिकारियों के साथ अभद्रता कर चुका है, जिसके लिए उसे दंडित किया गया था।

Edited By: Ankur Tripathi