प्रयागराज, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार यानी आज को दिव्यांगजन व वृद्धजन का संगम की रेती पर सम्मान करेंगे। परेड मैदान में पीएम मोदी की मौजूदगी में लगभग 27 हजार दिव्यांगजन व वृद्धजन को उपकरण वितरित किया जाएगा। प्रधानमंत्री 10 दिव्यांगजन को अपने हाथ से उपकरण प्रदान करेंगे। वह तीन सौ दिव्यांगजन से अलग से मन की बात भी करेंगे। समारोह को ऐसा भव्य स्वरूप दिया गया है कि इसमें कई विश्व कीर्तिमान भी बनेंगे। 

प्रधानमंत्री का स्‍वागत करने के लिए राज्‍यपाल और सीएम पहुंचेंगे एयरपोर्ट

प्रधानमंत्री शनिवार को सुबह लगभग 11 बजे परेड मैदान स्थित कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे गे। वहां लगभग दो घंटे रहेंगे। इसके बाद हेलीकॉप्टर से चित्रकूट रवाना होंगे। वहां से बमरौली एयरपोर्ट लौटकर शाम को भारतीय वायुसेना के विशेष वायुयान से दिल्ली लौट जाएंगे। इसके पहले प्रधानमंत्री का स्वागत करने के लिए राज्यपाल आनंदी बेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बमरौली एयरपोर्ट पहुंचेंगे। वहां से समारोह स्थल आएंगे। कार्यक्रम में शामिल होने के लिए केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. थावरचंद गहलोत समेत कई मंत्री शुक्रवार को पहुंच गए। सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर परेड मैदान से संगम तट तक सील कर दिया गया है।

सुरक्षा तैयारियां पूरी, एसपीजी ने किया रिहर्सल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन से एक रोज पहले सुरक्षा तैयारी पूरी कर ली गई। दोपहर में हेलीपैड से मंच तक पीएम फ्लीट का रिहर्सल किया गया। पुलिस और पैरा मिलेट्री फोर्स भी आ गई। सुरक्षा बलों को उनकी ड्यूटी के बारे में ब्रीफ किया गया। एसपीजी ने पंडाल और हेलीपैड पर सुरक्षा की बागडोर अपने कब्जे में ले ली।

परेड मैदान की सुरक्षा की कमान एसपीजी के हाथ

परेड मैदान में शनिवार को होने वाले कार्यक्रम में शांति और सुरक्षा व्यवस्था की कमान बुधवार को ही स्पेशल टास्क फोर्स यानी एसपीजी ने अपने हाथों में ले ली थी। एसपीजी के आइजी आलोक शर्मा समेत कई अफसरों ने स्थानीय अधिकारियों के साथ लगातार निरीक्षण कर कार्यक्रम स्थल की जबरदस्त किलेबंदी की है। शनिवार को हेलीपैड पर पीएम का हेलीकॉप्टर उतरने के बाद फ्लीट बमुश्किल तीन सौ मीटर दूर स्थित मंच तक जाएगी। पीएम के काफिले की दो विशेष रेंज रोवर कार यहां आ चुकी है। एसपीजी ने पीएम की फ्लीट का रिहर्सल किया। हेलीपैड से फ्लीट की गाडिय़ां रवाना होकर मंच तक पहुंची। एडीजी जोन, आइजी रेंज, एसएसपी भी एसपीजी के अधिकारियों के साथ सुरक्षा समेत अन्य व्यवस्था की देखरेख में लगे रहे।

बाहर से आए सुरक्षों बलों को अफसरों ने किया ब्रीफ

बाहर से आए सुरक्षा बलों को उनकी तैनाती स्थल और जिम्मेदारी के बारे में आइजी रेंज और एसएसपी ने ब्रीफ किया। इस दौरान एसपीजी के भी अफसर मौजूद रहे। जोन के सभी जिलों के अलावा कानपुर, जौनपुर, मीरजापुर, भदोही से भी पुलिस बल बुलाया गया है। 10 आइपीएस, 15 एएसपी, 30 डिप्टी एसपी समेत करीब ढाई हजार पुलिसकर्मियों के अलावा 10 कंपनी पीएसी, आरएएफ, इंडो तिब्बत बार्डर पुलिस की भी तैनाती की गई है। आरएएफ के भीड़ नियंत्रण वाले विशेष वाहन भी मंगाए हैैं। शहर में पुलिस ने चेकिंग अभियान शुरू करते हुए होटलों-ढाबों को चेक किया।

सुरक्षा जांच के बाद ही पंडाल में प्रवेश

कार्यक्रम स्थल पर सुरक्षा जांच के बाद ही लोगों को पंडाल में प्रवेश करने दिया जाएगा। पंडाल से पहले बीस से ज्यादा डीएफएमडी यानी डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाए गए हैैं। लोगों को डीएफएमडी से होकर जाना होगा। आइजी रेंज केपी सिंह ने बताया कि सुरक्षा तैयारी पूरी कर ली गई है।

फूल-माला से सजाया गया मंच

मंच कोअंतिम रूप दे दिया गया। फूल-माला से सजा दिया गया। चारों ओर फूलों के गमले भी रखे गए। मंच पर दोनों ओर उच्च क्षमता के 12 एसी भी रखे गए हैैं। दाहिने तरफ आकर्षक सैैंड आर्ट भी बनाया गया है। मंच के दोनों ओर वातानुकूलित शेफ हाउस भी  बनाया गया है। मंच के पास ही कंट्रोल रूम भी बनाया गया है। मंच पर जाने वालों की सूची एसपीजी ने फाइनल कर प्रशासन को दे दी है। वीवीआइपी दीर्घा की इंट्री अलग रखी गई है।

मन की बात का होगा सीधा प्रसारण

प्रधानमंत्री जिन तीन सौ लाभार्थियों के साथ मन की बात करेंगे, उसका सीधा प्रसारण भी होगा। पंडालों में बैठे अन्य लाभार्थियों के लिए 40 एलईडी स्क्रीन लगाई गई हैैं, जिससे वे देख सकेंगे। मन की बात के लिए अलग से पंडाल बना है जिसे चारो ओर से घेर दिया गया है। उसमें पीएम मोदी और मुख्यमंत्री ही लाभार्थियों के बीच रहेंगे।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस