प्रयागराज, जेएनएन। धूमनगंज थाना क्षेत्र के पीपल गांव इलाके में बुधवार देररात प्रधान संध्या शुक्ला के 24 वर्षीय भतीजे अनुज शुक्ला को गोली मार दी गई। उसे एसआरएन अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। घटना की वजह साफ नही है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

किसी से पांच हजार रुपये लेकर दोस्‍त के साथ लौट रहा था

झलवा की प्रधान संध्या पति प्रकाश चन्द्र शुक्ला है। उनका भतीजा अनुज शुक्ला बुधवार रात साथी नितिन साहू के साथ कटहुला गांव में किसी से पांच हजार रुपये लेने गया था। लौटते वक्त कटहुला रोड पर बाइक सवार दो नकाबपोश बदमाशों ने फायरिंग की। गर्दन के पीछे गोली लगने से अनुज जमीन पर गिर पड़ा तो हमलावर भाग निकले। जानकारी पाकर सीओ , इंस्पेक्टर मौके पर पहुंचे व पूछताछ की । पुलिस का कहना है अनुज तेल टैंकर चलवाने और प्रॉपर्टी का काम करता था। सीओ सिविल लाइंस बृज नारायण के मुताबिक तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर विवेचना की जाएगी।

होम क्वारंटाइन में रह रहे कारोबारी पर हमला

होम क्वारंटाइन में रह रहे कारोबारी अगस्त्य पांडेय पर कुछ लोगों ने कोरोना का हल्ला मचाते हुए हमला कर दिया। विरोध पर पिस्टल सटाकर जान से मारने की धमकी दी। घटना के बाद पीडि़त ने धूमनगंज थाने में गौरव सिंह, केपी सिंह, मोनिका, विनय मिश्रा समेत कई अन्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।  घटना धूमनगंज थाना क्षेत्र के न्याय बिहार कॉलोनी में सोमवार शाम को हुई। अगस्त्य पांडेय पुत्र मिश्री लाल मूलरूप से कौशांबी जिले के मंझनपुर थाना क्षेत्र स्थित चकिया मलाक पिंजरी गांव के निवासी है। वह कारोबार करते हैं। उनके जीजा न्याय बिहार कॉलोनी में रहते हैं। कहा जा रहा है कि कुछ दिन पहले वह पुणे से लौटे थे। कोरोना महामारी को देखते हुए वह एहतियातन जीजा के घर में क्वारंटाइन हो गए। आरोप है कि इसी का विरोध आसपास के लोगों ने शुरू कर दिया। देखते ही देखते तमाम लोग घर में घुस गए और मारपीट करते हुए पिस्टल सटाकर धमकी दी। इससे वहां खलबली मच गई। फिलहाल पुलिस का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा लिखकर विवेचना की जा रही है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस