प्रयागराज,जेएनएन। छात्रा सौम्या की हत्या और अरशान के आत्महत्या की तफ्तीश में जुटी पुलिस के सामने नई कहानी सामने आई है। पता चला है कि सहेली आराधना के सामने सौम्या को गोली मारी गई थी। सीसीटीवी फुटेज में भी दोनों घटना स्थल की तरफ जाते हुए दिखी हैं। अब पुलिस आराधना को चश्मदीद बताकर उससे पूछताछ कर रही है। वहीं, छात्रा का मोबाइल व आठ हजार रुपये लेकर भागने वाले अरशान उर्फ शालू के दोस्त तौसीफ व अनस की तलाश भी चल रही है।

गिफ्ट दिया हुआ मोबाइल वापस करने गई छात्रा

शनिवार दोपहर छात्रा सौम्‍या की गोली मारकर हत्‍या के बाद अरशान ने खुद को गोली मारकर खुदकुशी कर ली थी। पुलिस का दावा है कि संबंध विच्छेद होने के बाद अरशान ने सौम्या से गिफ्ट दिया हुआ अपना मोबाइल व खर्च का हिसाब मांगा था। इस पर शनिवार दोपहर अपनी दूसरी सहेली के घर पहुंची। उसने पहले आराधना से पैसा व मोबाइल भिजवाया तो शालू नाराज हो गया और कहा कि उसने जिसे दिया था, उसी के हाथ से लेगा। इस पर आराधना के साथ सौम्या भी गई। मोबाइल व पैसा लेने के बाद शालू ने अपने साथी हिमांशु को दे दिया। फिर हिमांशु ने दोनों चीज अनस को दे दी। इसी बीच शालू ने छात्रा को गोली मारी और थोड़ी दूर जाकर खुद को भी गोली मार ली, जिससे दोनों की मौत हो गई। इस घटना से उसके साथी भयभीत हो गए और फिर वहां से भाग निकले। कहा जा रहा है कि शालू किसी साथी की कार से गया था। अब पुलिस कोहना निवासी अनस व हवेलिया के तौसीफ को पकडऩे के लिए छापेमारी कर रही है। ताकि छात्रा का मोबाइल बरामद हो सके और उसमें छिपे कुछ राज भी सामने आ जाएं।

अरशान के फरार दोस्‍तों की तलाश में पुलिस

फिलहाल पुलिस का कहना है कि घटना के दिन सौम्या दूसरे का मोबाइल लेकर घर से बाहर गई थी। फिलहाल पुलिस मामले का लगभग पर्दाफाश कर चुकी है, लेकिन कुछ सवालों का जवाब जानने के लिए झूंसी पुलिस तफ्तीश कर रही है। हिरासत में लिए गए हिमांशु से भी पूछताछ हो रही है। एसपी गंगापार एनके सिंह के मुताबिक अब तक की जांच में यही पता चला है कि घटना सौम्या की सहेली आराधना के सामने हुई है। उससे भी पूछताछ की जा रही है। जल्द ही फरार युवकों को भी पकड़ लिया जाएगा।

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस