प्रयागराज, जेएनएन : नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक में कर्मचारी हित में भी फैसला हुआ। महापौर को स्वास्थ्य मद में निगम से हर वर्ष 1.50 लाख रुपये मिलते हैैं। तय हुआ कि यह रकम अब कर्मचारियों के स्वास्थ्य मद में खर्च की जाएगी। इसके लिए नगर निगम में एक माह में चार बार स्वास्थ्य शिविर लगाया जाएगा, जिसमें कर्मचारियों का स्वास्थ्य परीक्षण होगा। इस रकम से कर्मचारियों को दवाएं आदि उपलब्ध कराई जाएंगी। 

आउट सोर्सिंग सफाई कर्मियों के ईपीएफ, ईएसआइ का होगा भुगतान :

नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक में आउट सोर्सिंग पर काम करने वाले सफाई कर्मचारियों के ईपीएफ व ईएसआई के भुगतान का भी मामला उठा। महापौर ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि इन कर्मचारियों का ठेकेदारों से बकाया समेत पूरा भुगतान तत्काल कराया जाए। ठेकेदारों को चेक जारी करते समय इस मद में तय रकम सुनिश्चित कराई जाए। ईपीएफ व ईएसआई की रकम कर्मियों के खाते में भेजी जाए। ठेकेदार इसमें आनाकानी करते हैैं तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाए। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप