प्रयागराज, जेएनएन। जिले के शंकरगढ थानाक्षेत्र के कपारी गांव में सपेरा बस्ती के पीछे एक खदान में भरे पानी में बड़ा हादसा हो गया। खदान के पानी में एक बालिका की डूबने से मौत हो गई, जबकि सगी बहनों को बचा लिया गया। एक बालिका की मौत से घर में कोहराम मचा हुआ है। बालिका शव मिलने पर परिजनों की आंखों से आंसू निकल आए। 

छोटी को बचाने के लिए पानी में कूदी थीं चंचल और जानकी

दोपहर में नागनाथ की बेटी नौ वर्षीय छोटी, सिपतनाथ की बेटियां आठ वर्षीय चंचल और नौ साल की जानकी खेल रही थीं। तभी छोटी बगल में खदान के पानी में गिर गई। उसे बचाने के लिए चंचल भी कूद गई, मगर वह भी गहरे पानी में डूबने लगी। बहन चंचल को डूबते देखकर जानकी भी कूद गई। तीनों बालिकाएं डूबने लगीं। पता चला तो बस्ती के लोग दौड़कर पहुंचे। बालिकाओं को बचाने के लिए ग्रामीण खदान के पानी में कूदे। मशक्‍कत के बाद लोगों ने चंचल तथा जानकी को बचा लिया गया, लेकिन छोटी नहीं मिली।

घर में मचा कोहराम

काफी खोजबीन के बाद छोटी पत्थर के बीच फंसी मिली, तब तक उसकी सांस थम चुकी थी। खबर पाकर छोटी के घरवाले भी आ गए। मौके पर शंकरगढ़ थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह भी पहुंचे। शव घरवालों को सौंप दिया गया। शंकरगढ थाना प्रभारी का कहना है कि परिजन शव का पोस्‍टमार्टम नहीं कराना चाहते थे। जिसके चलते शव उन्‍हें सौंप दिया गया है। वहीं, छोटी की मौत से घर में कोहराम मचा हुआ है। घरवालों का रोकर बुरा हाल है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस