प्रयागराज, जेएनएन। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्रसंघ बहाली की मांग को लेकर 47वें दिन भी आंदोलन जारी रहा। धरनास्थल पर यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व पूर्वी उत्तर प्रदेश प्रभारी विपिन मिश्रा और सपा नेता राजेश यादव ने पहुंचकर समर्थन दिया। सभी ने एक स्वर में छात्रसंघ बहाली की मांग की। साथ ही चेतावनी दी कि यदि 24 घंटे में छात्रसंघ बहाल नहीं किया गया तो आमरण अनशन किया जाएगा।

सभा में छात्रसंघ के निवर्तमान पदाधिकारियों ने बुलंद की आवाज

सभा को संबोधित करते हुए रजनीश सिंह ने कहा 47 दिन तक हमने गांधी की प्रतिमा के समक्ष धरना दिया। अब समय आ गया जब भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद को साक्षी मानकर प्राणों की बाजी लगा देनी चाहिए। सभा में छात्रसंघ महामंत्री शिवम सिंह, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष दिनेश सिंह, अवनीश यादव, निवर्तमान छात्रसंघ अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव ने विचार व्यक्त किए। चेतावनी दी कि विश्वविद्यालय प्रशासन 24 घंटे के अंदर छात्रसंघ बहाल नहीं करता है तो आमरण अनशन करेंगे।

छात्रसंघ बहाली का इन्होंने एक स्वर में अपनी मांगें रखीं

सभा का संचालन चौधरी संदीप व धन्यवाद ज्ञापन पूर्व उपाध्यक्ष आदिल हमजा ने किया। इस दौरान अखिलेश यादव, भूपेंद्र सिंह, विक्रांत सिंह, अविनाश विद्यार्थी, जितेश मिश्रा, अरविंद सरोज, अजय सम्राट, जितेंद्र धनराज, दुर्गेश सिंह, सत्यम कुशवाहा, अंकित प्रतिहार, मसूद अंसारी, सौरभ बंटी, आशीष अतरौलिया, आनंद सेंगर, निशांत रस्तोगी, शशांक शर्मा आदि मौजूद रहे।

एसएसएल में अनुच्छेद 370 पर चर्चा

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के सर सुंदरलाल छात्रावास में 'फ्राइडे क्लब' के अंतर्गत सेमिनार क्लास का आयोजन हुआ। इसमें इविवि के प्रोफेसर आरके उपाध्याय ने छात्रों से भारत की आंतरिक व्यवस्था तथा दक्षिण एशिया के साथ उसके संबंधों, कश्मीर की समस्या, अनुच्छेद  370 और 35ए जैसे गम्भीर मुद्दों पर बातचीत की। इसके बाद छात्रों ने उन्हें स्मृति चिह्न भेंट किया। छात्रावास के संरक्षक प्रो. शिव प्रकाश शुक्ला, अधीक्षक डॉ. संतोष कुमार सिंह, असिस्टेंट प्रॉक्टर राजू गाजुला आदि उपस्थित रहे।

 

Posted By: Brijesh Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस