प्रयागराज : पुरुष का स्वांग रचकर दो महिलाओं से शादी करने और ठगी के धन से हरिद्वार में ऐशोआराम की जिंदगी बिताने वाली वाली कृष्णा सेन की कहानी अब रुपहले पर्दे पर भी देखने को मिलेगी। उस पर शुआट्स के छात्र शॉर्ट फिल्म बना रहे हैं। इस फिल्म को बनाने के पीछे छात्रों का मकसद समाज को दहेजमुक्त बनाने का संदेश देना है।

सैम हिग्गिनबॉटम युनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चर, टेक्नोलॉजी और साइंसेस के स्कूल ऑफ फिल्म एंड मॉस कम्युनिकेशन विभाग की ओर से कृष्णा सेन की करतूतों पर आधारित बायोपिक फिल्म 'मिराज : एक सत्य घटना थ्रिलर क्राइम शॉर्ट फिल्म की शूटिंग की जा रही है। निर्देशिका शुआट्स की छात्रा शांभवी ने बताया कि 45 मिनट की यह फिल्म विभाग के  प्रो. राम मणि त्रिपाठी व प्रो. अनिशा हैनरी के नेतृत्व में बनाई जा रही है। फिल्म की शूटिंग 12 दिनों तक चलेगी। इसमें कृष्णा सेन की भूमिका शुआट्स के छात्र कौस्तुभ पांडेय अदा कर रहे हैं। इसके अलावा सचिन चंद्रा और मोनिका सिंह भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही हैं। शांभवी ने बताया कि इस फिल्म के जरिए दहेज प्रथा खत्म करने का संदेश दिया जाएगा। शूटिंग के दौरान अंग्रेजी विभाग के प्रमुख डॉ.आशीष ऐलेक्जेंडर, स्कूल ऑफ फिल्म एंड मॉस कम्युनिकेशन विभाग के प्रमुख डॉ स्टीफेन दास, पूर्व प्रमुख डॉ. राहत  खान और डॉ. पूजा ऐलेक्जेंडर, आदि उपस्थित रहे।

जानिए कृष्णा सेन के बारे में

पुरुष का स्वांग रचकर दो महिलाओं से शादी करने वाली कृष्णा सेन ठगी के धन से हरिद्वार में ऐशोआराम की जिंदगी बिता रही थी। उसे देखकर आसपास के लोग प्रतिष्ठित कारोबारी समझते थे। अमीरजादों की तरह घर में सुख-सुविधा का हर सामान उपलब्ध था। यही नहीं घर पर महंगी शराब की बोतलें और सिगरेट के डिब्बे भी रखे थे। कृष्णा की आलीशान जिंदगी देख पुलिस भी भौचक रह गई। पुलिस ने जब राज से पर्दा उठाया तो पता चला कि कृष्णा के मोबाइल फोन की जांच में करीब 200 नंबर सेव मिले हैं। हैरानी की बात ये है कि परिवार के लोगों को छोड़कर फोन के कांटेक्ट लिस्ट में एक भी पुरुष का नंबर नहीं था। सभी नंबर अलग-अलग शहरों की महिलाओं के थे। कृष्णा युवतियों से पुरुष बनकर लंबे समय से बातचीत करती। फेसबुक के माध्यम से वह युवतियों व महिलाओं से दोस्ती करती थी। खुद को सीएफएल फैक्ट्री का मालिक बताकर वह उन्हें ऊंचे ख्वाब दिखाने के साथ ही अपने प्रेमजाल में फंसाती थी। इसके बाद उनसे शादी कर दहेज लेकर ऐश करती थी।

Posted By: Brijesh Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप