प्रयागराज,जेएनएन। यूपी के कौशांबी जिले में अहमदपुर असरौली गांव की प्रधान के बेटे शाह खालिद ने अपने साथियों संग असलहे का प्रदर्शन किया था। पूरामुफ्ती पुलिस ने आर्म्‍स एक्ट के तहत शाह खालिद, उसके दोस्त शेखू, सोनू, मो. शादान और मो. शऊद को गिरफ्तार कर लिया है। सभी अभियुक्त अहमदपुर असरौली गांव के ही रहने वाले हैं। सात अन्य युवकों को भी चिह्नित कर लिया गया है, लेकिन गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। इनके शस्त्र का लाइसेंस निरस्त करने की रिपोर्ट भी जल्द ही जिलाधिकारी को भेजी जाएगी।

सभी असलहे हैं लाइसेंसी

पुलिस के मुताबिक, मासूक अहमद उर्फ माशूक उद्दीन की बीवी इस वक्त गांव की प्रधान हैं। उसका बेटा शाह खालिद खेती व दूसरे काम करता है। पूछताछ में पता चला है कि करीब तीन साल पहले वह अपने साथियों के साथ गंगा कछार की तरफ गया था। इसके बाद सभी ने रायफल, रिवाल्वर, बंदूक व गोली की बेल्ट लेकर तस्वीर खिंचवाई थी। सभी असलहे लाइसेंसी हैं और उनके परिवार के अलग-अलग सदस्यों के नाम पर हैं।

इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुई तस्‍वीर

सोमवार शाम असलहों का प्रदर्शन करते हुए इनकी तस्वीरें इंटरनेट मीडिया पर वायरल हुई थीं, जिसके बाद पूरामुफ्ती पुलिस ने आम जनता के बीच दहशत फैलाने के उद्देश्य से हथियारों के साथ धौंस जमाने के आरोप में आम्र्स एक्ट के तहत 13 लोगों के खिलाफ मुकदमा कायम किया। फिर इंस्पेक्टर आशुतोष तिवारी ने एसआइ सुनील यादव व अन्य पुलिसर्किमयों के साथ छापेमारी शुरू की। मंगलवार दोपहर तक खालिद समेत छह लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस इनके खिलाफ दर्ज मुकदमों के बारे में जानकारी जुटा रही है।

शस्‍त्र लाइसेंस निरस्‍त कराने की होगी कार्रवाई

एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह का कहना है कि कुछ असलहे पहले से थाने में जमा हैं और बाकी को भी जमा करवाया जाएगा। इसके बाद शस्त्र का लाइसेंस निरस्त कराने की कार्रवाई होगी। फरार अभियुक्तों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

Edited By: Rajneesh Mishra