प्रयागराज,जेएनएन। पिछले सप्ताह खाद्य तेलों की कीमतों में गिरावट हुई थी। इधर रिफाइंड फाच्र्यून यानी सोयाबीन के दाम में दो दिनों में फिर मामूली गिरावट हुई है। हालांकि, अन्य खाद्य तेलों के दाम स्थिर हैं। 

इस महीने के शुरुआत में सरसों के तेल के थोक मूल्य में करीब 60 रुपये, रिफाइंड के दाम में 30 और पामोलीन की कीमत में 15 रुपये प्रति टिन की बढ़ोत्तरी हुई थी।

रिफाइंड तेल की कीमत दस रुपये प्रति टिन की कमी

पिछले सप्ताह की तुलना में सरसों के तेल का थोक मूल्य 15 किलो प्रति टिन 2110 रुपये, पामोलीन का दाम 15 लीटर टिन 1910 रुपये और रिफाइंड का रेट 15 लीटर टिन 1910 रुपये था, वह बढ़कर क्रमश: 2170, 1925 और 1940 रुपये हो गया था। लेकिन पिछले सप्ताह सरसों के तेल, पामोलीन और रिफाइंड की कीमतों में 10-10 रुपये की कमी हुई थी। अब रिफाइंड की कीमत में 10 रुपये टिन की गिरावट हुई है। सोयाबीन 1940 की बजाय 1930 रुपये टिन हो गया है। मार्च से खाद्य तेलों की कीमतों में और कमी होने के आसार हैं, क्योंकि गर्मी में खाद्य तेलों की खपत ठंड की तुलना में काफी कम हो जाती है। बहरहाल, फुटकर में सरसों का तेल 140-142 रुपये किलो, रिफाइंड 127-128 और पामोलीन का रेट 115 रुपये लीटर है।

सोयाबीन के रेट में मामूली कमी, बिक्री लगभग स्थिर

इलाहाबाद गल्ला तिलहन व्यापार मंडल के अध्यक्ष सतीश केसरवानी का कहना है कि खाद्य तेल के अलावा अन्य खाद्य सामग्रियों की कीमतें स्थिर हैं। सोयाबीन के रेट में मामूली कमी हुई है। बिक्री भी लगभग स्थिर है।

 

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021